अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फिर से लौटता स्कूटरों का दौर

फिर से लौटता स्कूटरों का दौर

बजाज को लगा कि स्कूटर में वह स्कोप नहीं है, जिससे उसमें आगे काम किया जाए। पर बजाज की इस सोच को भारतीय बाजार पूरी तरह से झुठला रहा है। स्कूटर के शौकीनों को अभी स्कूटर चलाना पसंद है। परिणामस्वरूप स्कूटर बाजार में रौनक आ गई। पर इस बार इस रौनक का हिस्सा देसी कंपनी नहीं, बल्कि विदेशी कंपनी होंडा बनी। स्थिति को भांपते हुए सही अवसर देख कर इस कंपनी ने भारत के स्कूटर बाजार पर अपना बर्चस्व सा कायम कर लिया। अगर आपको सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्यूफेक्चर्स (सियाम) के बिक्री के आंकड़े बताएं तो आप चौंक जाएंगे। दिसंबर माह में जारी नवंबर के स्कूटर की घरेलू बिक्री 15.2 प्रतिशत बढ़ी है। यानी इस माह में 8 लाख 91 हजार 303 स्कूटर बिके हैं, जबकि अक्टूबर माह में यह 13.42 प्रतिशत थी। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि स्कूटर बाजार किस ओर अग्रसर है।

स्कूटर सेगमेंट में प्रवेश करने वाली कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा अपने दो स्कूटरों रोडियो ओर ड्यूरो के साथ अच्छा कारोबार कर रही है। यह कंपनी हर माह लगभग 7 हजार स्कूटर बेच रही है। अच्छी मांग के चलते कंपनी अपनी क्षमता बढ़ाने पर विचार कर रही है। वहीं होंडा और टीवीएस आधुनिक स्कूटर को अगले साल भारतीय बाजार में लॉन्च करने का मन बना चुकी हैं।

स्कूटर में बढ़ती संभावनाओं को देखते हुए आने वाले कुछ महीनों में और कंपनियां इस सेगमेंट में प्रवेश करने का मना बना सकती हैं। यदि स्कूटर बाजार की बात की जाए तो अब महिंद्रा एंड महिंद्रा, टीवीएस और होंडा को छोड़ कर स्कूटर बनाने वाली कोई और कंपनी नहीं बची है।
      
टीवीएस ने किया कमाल
मोटरसाइकिल सेगमेंट में अच्छा प्रदर्शन कर रही टीवीएस कंपनी ने 25 नवंबर को ऐसा काम किया जो मोटरसाइकिल इतिहास में दर्ज हो गया। टीवीएस ने 110 सीसी की जाइव नाम की एक मोटरसाइकिल लॉन्च की, जिसमें क्लच ही नहीं था। कंपनी ने लोगों को तनावमुक्त ड्राइविंग देने के लिए यह पहल की। इस बाइक का गियर बिना क्लच दबाए अपने आप ही बदल उठता है।

बजाज स्कूटर के जाने का सबसे अधिक लाभ आने वाले दिनों में हो सकता है टीवीएस को मिले। स्कूटी के मामले में अव्वल इस कंपनी ने पहली बार नवंबर 2009 में वीगो नाम का स्कूटर उतारा। 110 सीसी के इस स्कूटर की खासियत यह है कि इसे कंपनी ने पूर परिवार को चलाने के तौर पर डिजाइन किया है। कंपनी के सीईओ वेनू श्रीनिवासन ने बताया कि हमने पहली बार किसी स्कूटर में फ्यूल का ढक्कन कार के अंदाज में दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फिर से लौटता स्कूटरों का दौर