class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जून में हुआ पाकिस्तान की बदनीयती का खुलासा

पेंटागन के दस्तावेजों से इस बात का खुलासा होना जून की बड़ी घटना रही कि पाकिस्तान को अमेरिका से आतंकवाद से मुकाबले के नाम पर जो विशाल सैन्य सहायता मिली उसने उसका इस्तेमाल भारत के खिलाफ परंपरागत युद्ध के लिए अपनी सेना को आधुनिक हथियारों और उपकरणों से सुसज्जित करने में किया।

मेलबर्न (एक जून) आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री केविन रड ने भारतीय छात्रों पर हमले को निंदनीय बताया और आश्वासन दिया कि उनकी सरकार दोषियों को न्याय के दायरे में लाने के लिए काम कर रही है।

इस्लामाबाद (दो जून) शांति के लिए कश्मीर मुद्दे के हल को जरूरी बताते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने कहा कि भारत के साथ इस समस्या के हल के लिए रचनात्मक और सार्थक बातचीत होनी चाहिए।

काहिरा (चार जून) इस्राइल के साथ वैध फलस्तीनी देश के वजूद का समर्थन करते हुए राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि पश्चिम एशिया में हिंसा समाप्त करने का यही एकमात्र समाधान हैं।

वाशिंगटन (छह जून) पेंटागन के दस्तावेजों में खुलासा किया गया कि पाकिस्तान ने खुद को अमेरिका से आतंकवाद से मुकाबले के लिए मिली सैन्य सहायता की बड़ी राशि का इस्तेमाल भारत के खिलाफ परंपरागत युद्ध के लिए अपनी सेना को आधुनिक हथियारों और उपकरणों से सुसज्जित करने में किया।

लाहौर (सात जून) अदालत द्वारा जेयूडी प्रमुख हाफिज सईद को रिहा करने के कुछ दिनों बाद लाहौर हाई कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि पाकिस्तानी अधिकारियों ने जमात उद दावा प्रमुख हाफिज मोहम्मद सईद के खिलाफ मुंबई हमला मामले में कोई सबूत पेश नहीं किए।

ढा़का (नौ जून) बांग्लादेश में घरेलू बैंक और बहुराष्ट्रीय वेस्टर्न यूनियन के खिलाफ जांच शुरू।

टोरंटो (10 जून) वेंकूवर के बाहरी इलाके में छह भारतीयों पर हमला।

संयुक्त राष्ट्र (12 जून) संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने दूसरा परमाणु परीक्षण कर चुके उत्तर कोरिया के परमाणु और प्रक्षेपास्त्र कार्यक्रम को निशाने पर लाते हुए देश पर कड़े प्रतिबंध लगाने के लिए एक प्रस्ताव आम सहमति से पारित किया।

ढा़का (15 जून) पाकिस्तान की आईएसआई और भारत के पूर्वोत्तर के उग्रवादी गुटों में संबंध का संदेह फिर पुख्ता हो गया जब हिरासत में बंद बांग्लादेश की खुफिया एजेंसी के प्रमुख ने पुष्टि की कि आईएसआई ने 2004 में उल्फा को हथियारों की आपूर्ति की थी।

येकातेरिंगबर्ग (रूस) 15 जून : प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी से भारत विरोधी आतंकवादी गतिविधियों के लिए अपनी भूमि का इस्तेमाल रोकने के लिए कहा।

ढा़का (18 जून) बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने कहा कि उनका देश बंगाल की खाड़ी में कुछ हिस्सों पर भारत और म्यांमार के दावे के खिलाफ संरा में विरोध जताएगा।

काठमांडू (21 जून) विदेश सचिव शिवशंकर मेनन ने कहा कि सरकार के पास भारत और नेपाल के माओवादियों के बीच संबंध होने के कोई सबूत नहीं हैं।

दुबई (22 जून) अलकायदा के एक कमांडर ने चेतावनी दी कि अगर उनका समूह पाकिस्तान के परमाणु हथियारों पर कब्जा कर लेता है तो उनका इस्तेमाल अमेरिका के खिलाफ किया जाएगा।

मेलबर्न (23 जून) आस्ट्रेलिया में हैदराबाद के 20 वर्षीय युवक पर नस्ली हमला। बांग्लादेशी और कंबोडियाई छात्रों सहित कई भारतीय छात्रों को आस्ट्रेलिया में वीजा संबंधी नियमों के उल्लंघन के लिए हाई रिस्क ग्रुप में रखा गया।

इस्लामाबाद (24 जून) पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने भारतीय नागरिक सरबजीत सिंह की पुनरीक्षण याचिका खारिज की और उसे 1990 में हुए बम हमले में कथित संलिप्तता के कारण सुनाई गई मत्युदंड की सजा बरकरार रखी।

इस्लामाबाद (26 जून) पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरेशी ने कहा कि पाकिस्तान मुंबई हमलों के सिलसिले में गिरफ्तार किए गए व्यक्तियों के खिलाफ अपने कानून के तहत कार्रवाई करेगा।

वॉशिंगटन (27 जून) अमेरिकी विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन ने कहा कि कश्मीरी मूल की फराह पंडित मुस्लिम समुदाय की विशेष प्रतिनिधि के तौर पर दुनिया भर के मुसलमानों के साथ बातचीत करने में अहम भूमिका निभाएंगी।

इस्लामाबाद (28 जून) अमेरिकी संघीय जांच ब्यूरो ने पाकिस्तान को सूचित किया कि अलकायदा से जुड़े अल किनी समूह ने मैरियट होटल में पिछले साल आत्मघाती कार बम हमला करने के साथ साथ देश में कई आतंकवादी हमले किए।

लाहौर : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने उग्रवादियों और चरमपंथियों से कोई बातचीत करने से इंकार करते हुए कहा कि लोग इन तत्वों का खात्मा कर शांति बहाल करना चाहते हैं।

ढा़का (30 जून) बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने उनकी प्रतिद्वन्द्वी खालिदा जिया की बीएनपी पार्टी के सहयोग से, तिपाईमुख बांध मुद्दे का भारत के साथ बातचीत से हल निकालने की उम्मीद जताई।

इस्लामाबाद : राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने कहा कि पाकिस्तान और भारत के लोगों के कल्याण के लिए और आतंकवाद से मुकाबले के लिए दोनों देशों के बीच अच्छे पड़ोसी संबंध होना जरूरी हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जून में हुआ पाकिस्तान की बदनीयती का खुलासा