class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारतीय पिचों में खोट नहीं, बल्कि ये उच्चस्तरीयः आईसीसी

भारतीय पिचों में खोट नहीं, बल्कि ये उच्चस्तरीयः आईसीसी

भारत और श्रीलंका के बीच पांचवां और अंतिम एकदिवसीय मैच भले ही खराब पिच के कारण रद्द हो गया हो लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद(आईसीसी) को भारतीय पिचों में कोई खोट नजर नहीं आती जिन्हें वह उच्चस्तर की मानता है।

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी हारून लोर्गट ने सोमवार को संवाददाताओं से कहा कि भारत की पिचों को दोयम दर्जे का कहना सही नहीं होगा। रविवार को जो कुछ हुआ, वह बुरा उदाहरण था लेकिन भारत में पिचें उच्चस्तर की हैं।

भारत और श्रीलंका के बीच पांचवां वन डे रविवार को तब पिच खतरनाक होने के कारण रद्द कर दिया गया जब श्रीलंकाई टीम ने 23.3 ओवर खेल लिए थे।

लार्गट ने इसके साथ ही भारत को टेस्ट क्रिकेट में शीर्ष पर काबिज होने के लिए बधाई दी और आशा जताई कि भारत अगले साल दक्षिण अफ्रीका के साथ दो टेस्ट मैचों की श्रृंखला खेलेगा। उन्होंने हालांकि टेस्ट, वन डे और टवेंटी-20 में संतुलन बनाए रखने पर भी जोर दिया।

आईसीसी सीईओ ने कहा कि भारत चोटी की कई टीमों को हराया और आशा है कि वह अगले साल दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला खेलेगा। मेरा मानना है कि इसे नंबर एक टेस्ट टीम की जंग के रूप में देखा जा सकता है। भारत अपने प्रदर्शन पर गर्व कर सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारतीय पिचों में खोट नहीं, बल्कि ये उच्चस्तरीय हैं: आईसीसी