class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुंभ 2010, 12 साल का त्यौहार

कुंभ 2010, 12 साल का त्यौहार

बॉलीवुड की फिल्में खासकर 90 के दशक से पहले की फिल्मों में कुंभ की विशालता को नायाब तरीके से दर्शाया जाता था। जब भी किसी फिल्म में दो भाई या बच्चे अपने माता-पिता से बिछड़ते थे तो वो अक्सर कुंभ के मेले में ही बिछड़ते थे। कुंभ असल में बिछड़ने का नहीं मिलने का त्योहार है। महाकुंभ में आप भारतीय संस्कृति से मिलते हैं, यहां आप आनंद की अनुभूति करते हैं और धर्म में आस्था रखने वालों के लिए यह भगवान के और करीब होने का एहसास होता है। महाकुंभ भारत का सबसे बड़ा मेला है और शायद ही कोई भारतीय हो जिसे कुंभ के बारे में जानकारी न हो। कुंभ का मेला दुनिया में धार्मिक उद्देश्य से लगने वाला सबसे बड़ा मेला है। इतने बड़े मेले को देखते हुए प्रशासन ने पूरी तैयारी की है। मेले के दौरान घटने वाली किसी भी आकस्मिक घटना से निपटने के लिए सरकार मेडिकल सुविधाओं को चाक चौबंध किया गया है। इसके अलावा दुनियाभर में अब तक कहर बरपा रे स्वाइन फ्लू से निपटना भी एक बड़ी चुनौती होगी, क्योंकि यह एक व्यक्ति से दूसरे में आसानी से फैल जाती है।

सदी का पहला महाकुंभ 2010 में ही होने वाला है। 14 जनवरी 2010 को मकर संक्रांति के स्नान से ही महाकुंभ की शुरुआत हो जाएगी जो 28 अप्रैल को बैसाख अधिमास पूर्णिमा स्नान तक चलेगा। छह अखाड़ों का शाही स्नान 15 व 30 मार्च और 14 अप्रैल को होगा।

कुंभ मेला अपने आप में एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है, क्योंकि कुंभ में दुनियाभर में सबसे ज्यादा लोग धार्मिक उद्देश्य से एक ही जगह पर इकट्ठे होते हैं। कुंभ के मौके पर करोड़ों लोग इकट्ठा होते हैं। वैसे कुंभ संस्कृत भाषा का शब्द है जिसका हिन्दी में शाब्दिक अर्थ कलश है। महाकुंभ हर 12 साल में 4 बार बारी-बारी से चार धार्मिक स्थलों पर लगता है। हरिद्वार में गंगा किनारे, उज्जैन में शिप्रा नदी के किनारे, नासिक में दक्षिण की गंगा कही जाने वाली गोदावरी के तट पर और इलाहाबाद में गंगा, यमुना और सरस्वती के संगम पर कुंभ मेला लगता है। चारों धार्मिक स्थलों पर महाकुंभ 12 साल में एक बार लगता है। महांकुभ की तिथि का निर्धारण सूर्य, चंद्रमा और ब्रहसपति की स्थिति के आधार पर होता है।

कुंभ के स्नान पर्व
14 जनवरी 2010 मकर संक्रांति
15 जनवरी 2010 मौनी अमावस्या
20 जनवरी 2010 बसंत पंचमी
30 जनवरी 2010 माघ पूर्णिमा
12 फरवरी 2010 महाशिवरात्रि
15 मार्च 2010 सोमवती अमावस्या
16 मार्च 2010 नव संवत्सर
24 मार्च 2010 श्रीराम नवमी
30 मार्च 2010 चैत्र पूर्णिमा
14 अप्रैल 2010 मेष संक्रांति
28 अप्रैल 2010 बैसाख अधिमास पूर्णिमा

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कुंभ 2010, 12 साल का त्यौहार