DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मारुति ईको: लोगों को नए साल का तोहफा

भारतीय सड़कों और यहां के मध्यमवर्गीय संयुक्त परिवारों के लिए मारुति ने ईको को डिजाइन किया है। कंपनी का यह एक और एक्सक्लूसिव प्रोडक्ट है। इसकी डिजाईन और माइलेज को देखते हुए यह कहा जा सकता है कि यह प्रोडक्ट भारत में सफलता का हकदार है। हालांकि अभी आपको इसका एक सप्ताह इंतजार करना पड़ेगा क्योंकि यह गाड़ी 7 जनवरी को बाजार में आ रही है पर कोई नहीं आइए आपको हम इसकी एक्सक्लूसिव टेस्ट ड्राइव तो करवा ही देते हैं।

मारुति कई सेगमेंट कुछ ऐसा कर रही है जिसे अन्य कंपनियां भी चुनौती देने की नहीं सोचतीं। खास करके ओमिनी वैन सेगमेंट में कंपनी की लोकप्रियता का अंदाजा लगाया जा सकता है। अपने इस प्रोडक्ट को कहीं से चुनौती मिलता न देख कंपनी ने अपना एक और उत्पाद बाजार में उतार दिया जिससे इस वैन के लिए चुनौती खड़ी हो। बीते सप्ताह मारुति ईको की एक्सक्लूसिव टेस्ट ड्राइव से यह अंदाजा लग गया कि एक बार फिर कंपनी मध्यम वर्गीय परिवारों को इस गाड़ी के माध्यम से नववर्ष का तोहफा देने जा रही है। हालांकि इसे कंपनी आधिकारिक रूप से बाजार में 5 जनवरी को प्रगति मैदान में आयोजित होने जा रहे ऑटो एक्सपो में उतारेगी।
 
मैं इस गाड़ी को कई मायने में बुरा कह सकता हूं, पर जब इस सेगमेंट के लिए कंपनी के उस लक्ष्य को देखता हूं जिसके लिए इसे तैयार किया गया है तो इसे एक संपूर्ण उत्पाद के अलावा कुछ और कहने को मन नहीं करता। लगभग 12 सौ सीसी के इंजन से एक पूरा परिवार ढोने की क्षमता रखने वाली इस गाड़ी को अगर आप 100 से ऊपर भगाने की कोशिश करेंगे तो गाड़ी सड़क पर वेस्टर्न डांस करने को कमर कस सकती है। लेकिन इसे यदि हाईवे पर 70-80 की स्पीड में चलाया जाए तो यह पता भी नहीं चलता कि इसका इंजन 12 सौ सीसी का है।

कंपनी के तय किए गए रूट के मुताबिक गुड़गांड के होटल क्राउन प्लाजा से जब ईको को स्टार्ट किया तो ऐसा लगा जैसे मैं किसी बस को ड्राइव करने जा रहा हूं। एक्सीलेटर पर पैर रखते ही तेज आवाज हुई। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि मुझे लगा कि यह ओमिनी जैसी होगी पर इसका एक्सीलेटर बहुत ही स्मूथ था जिसकी वजह से एक्सीलेटर बढ़ गया। पहले गियर में गाड़ी का पिकअप शानदार रहा। जयपुर हाईवे पर उतरने के लिए कट लेते हुए ऐसा नहीं लगा कि इसमें पावर स्टीयरिंग नहीं है। स्पीड ब्रेकर से जंप करते हुए मेरी गाड़ी में सवार तीन लोगों को यह अहसास तो हुआ कि मैंने किसी अवरोध को बिना ब्रेक लगाए कुदाया है पर वे इससे बिचलित नहीं हुए। गियर स्मूथ है पर इंटीरियर की बात की जाए तो ये कहीं से भी आपको आकर्षित नहीं  करेंगे। फ्यूल इंडीकेटर डिजिटल है।

इस गाड़ी के अंदर प्रवेश करना काफी सहज है इसके दरवाजे इस तरह से बनाए गए हैं कि किसी को दिक्कत न आए। कार्बन उत्सजर्न कम करने के लिए कंपनी ने इसमें बीएसआईवी नार्म का पूरा पालन किया है। इसमें सात सीट, पांच सीट, एसी और नान एसी गाड़ियां खरीदने का विकल्प होगा। कंपनी ने इसकी कीमत अभी निर्धारित नहीं की है,माना जा रहा है कि इसकी कीमत लगभग 4 लाख रुपये होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मारुति ईको: लोगों को नए साल का तोहफा