class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विजिलेंस टीम का कैंट पार्सल विभाग में छापा

रेलवे बोर्ड विजिलेंस टीम ने शनिवार को कैंट स्टेशन के पार्सल कार्यालय, बुकिंग एवं ट्रेनों में औचक जांच की। सूरत, मुम्बई, दिल्ली एवं बंगलुरू के लिए बुक पार्सलों के तौल में भारी गड़बड़ी मिली। ट्रेनों की जांच में दो टीटीई नदारद मिले। जांच टीम ने पार्सल लिपिक को दिल्ली तलब किया है। टीम का नेतृत्व कर रहे एमके पाण्डेय ने पार्सलों के तौल में गड़बड़ी मिलने की पुष्टि की है। वहीं पार्सल पर्यवेक्षक अनिल श्रीवास्तव ने किसी तरह की गड़बड़ी से इंकार किया।


कम वजन दिखाकर भारी मात्र में भेजे जा रहे पार्सलों में हेराफेरी की शिकायत रेलवे बोर्ड के ज्वाइंट डाइरेक्टर रवि पी चतुर्वेदी को मिली थी। इसपर टीम शनिवार की दोपहर कैंट पहुंची। टीम ने बंगलुरू एवं सूरत के लिए बुक पार्सलों की दोबारा तौल करायी। जांच में दिखाए गए वजन से अधिक मिला। इसी तरह मुम्बई एवं कोलकाता के पार्सलों की तौल करायी गई। लगभग एक दजर्न पार्सलों की तौल में भारी गड़बड़ी मिलने पर विजिलेंस अधिकारियों ने पार्सल बुकिंग रसीद जब्त कर संबंधित लिपिक को दिल्ली तलब किया है। सायं चार बजे विजिलेंस अधिकारियों ने बुकिंग व वाराणसी से गुजरने वाली ट्रेनों में छापेमारी की। श्रमजीवी, पंजाब मेल, दून एक्सप्रेस, मरुधर एक्सप्रेस एवं इंटरसिटी की जांच के दौरान पंजाब मेल एवं श्रमजीवी एक्सप्रेस से दो टीटीई ड्यूटी से गायब मिले। दून एक्सप्रेस में स्लीपर टिकट पर एसी में सफर करते पकड़े गए दो यात्राियों को जुर्माना वसूलने के बाद छोड़ दिया। विजिलेंस अधिकारी श्री पाण्डेय के मुताबिक जल्द ही उत्तर रेलवे के वाराणसी-लखनऊ के बीच पड़ने वाले स्टेशनों पर कार्ड टिकटों की भी जांच की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विजिलेंस टीम का कैंट पार्सल विभाग में छापा