class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समाज को प्रेरण देते है महापुरुष

राष्ट्र की सेवा में समर्पित रहने वाले महापुरूषों का जीवन समाज के लिए प्रेरणास्नोत होता है। पंडित मदन मोहन मालवीय जी का जीवन हिन्दुओं के आस्था केंद्रों, गंगाजी की मर्यादा और उच्च शिक्षा के क्षेत्र में देश को आगे बढ़ाने के लिए समर्पित रहा, ऐसे महापुरूष सदा अमर रहते हैं।
मालवीय जयंती पर उत्तराखंड ब्राहम्‍णसभा के तत्वावधान में आयोजित समारोह में अखिल भारतीय ब्राrाण सभा की अध्यक्ष पूनम भगत ने कहा कि ब्राहम्‍ण समाज के आदर्श मालवीय जी भारत माता के सच्चे सपूत थे। जिन्होंने भारत माता की अस्मिता को बचाने के लिए संघर्ष और हिन्दु धर्मस्थलों की रक्षा की। देश में शिक्षा का स्तर ऊंचा उठाने के लिए बनारस में शिक्षा संस्था की स्थापना की। ब्राहम्‍ण सभा उनके बताए मार्ग की अनुगामी बनकर समाज में दहेज प्रथा, कन्या भ्रूण हत्या जैसी कुरीतियों को समाप्त करने के लिए प्रयासरत रहेगी। उत्तराखंड ब्राहम्‍ण सभा के अध्यक्ष पंडित पदम प्रकाश शर्मा ने कहा कि मालवीय जी का जीवन समाज सेवा और धर्म रक्षा में बीता। धर्मनगरी की श्री गंगा सभा और ऋषिकुल जैसी संस्थाएं उनके पुरूषार्थ की देन हैं। समारोह को डा. आरडी शर्मा, उषा भारद्वाज, अनिता शर्मा, जर्नादन मिश्र, आशुतोष मिश्र ने भी संबोधित किया। इस दौरान शिवप्रकाश पालीवाल, विनोद भारद्वाज, आशा शर्मा, पी आत्रे, एसपी शर्मा, सुभाष भारद्वाज, ओमप्रकाश वशिष्ठ, सुनील मिश्र, आशीष, मंजुल शर्मा, बीपी शर्मा समेत ब्राहम्‍ण समाज के विशिष्टजन उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:समाज को प्रेरण देते है महापुरुष