DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छह वाहन चोर गिरफ्तार

शहर से लग्जरी गाड़ियों की चोरी व लूट कर दूसरे राज्यों में बेचने वाले गिरोह का भंडाफोड़ रविवार को नोएडा पुलिस ने किया है। सर्फाबाद मंदिर के पास से पकड़े गए छह बदमाशों के पास से चोरी की क्वालिस, एक तमंचे व दो नकली ड्राइविंग लाइसेंस बरामद किया गया है। पकड़े गए छह बदमाशों में से तीन नेपाल और तीन बिहार के रहने वाले हैं। कोतवाली सेक्टर-49 पुलिस इन बदमाशों से पूछताछ कर रही है। ये बदमाश शहर से एक दजर्न से अधिक लग्जरी गाड़ियों की चोरी की बात स्वीकार कर रहे हैं।

लग्जरी वाहन चोरी करने वाले इन छह बदमाशों को कोतवाली सेक्टर-49 पुलिस ने शनिवार की रात को सर्फाबाद मंदिर के पास से गिरफ्तार किया है। ये बदमाश गाड़ियों की चोरी कर फर्जी कागजात बनाकर असोम, बिहार व पश्चिम बंगाल में बेचते थे। इन बदमाशों के पास से फर्जी ड्राइविंग लाइसेंस, मुहर व कई तरह के प्रपत्र मिले हैं। डीएसपी थर्ड विकास त्रिपाठी ने बताया कि इस गैंग के सदस्यों ने नोएडा से एक दजर्न से अधिक लग्जरी गाड़ियों की चोरी को अंजाम दिया है। इस गैंग के तीन सदस्य पहले से ही जेल में बंद हैं। गिरफ्तार बदमाशों में राज बहादुर, प्रेम थापा, सोनू सिंह, संजय सिंह, मुकेश कुशवाहा व आशीष शामिल है। ये बदमाश खोड़ा में रहकर नेटवर्क चलाते थे। इस गैंग का सरगना राजू बहादुर है। इस पर दिल्ली में भी कई मुकदमे दर्ज हैं और श्रीनिवासपुरी थाने के एक मुकदमे में ढाई वर्ष की सजा मिल चुकी है।

लग्जरी गाड़ी चोरी करने वाले इन बदमाशों का नेटवर्क जबर्दस्त है। ये बदमाश गाड़ियों की चोरी कर सबसे पहले सिलिगुड़ी व गुवाहाटी ले जाते थे। वहां लोकल स्तर पर बदमाशों के साथ मिलकर फर्जी कागजात तैयार कराता था। वहां पर मांग के अनुसार सप्लाई कर बाकी गाड़ियों को नेपाल भेज दिया जाता था। कोतवाली निरीक्षक अभय प्रताप सिंह ने बताया कि सिलीगुड़ी, गुवाहाटी में कार बेचने के पुख्ता सबूत मिले हैं। वहीं पूछताछ के बाद यह भी पता लगा है कि नेपाल में भी गाड़ियां सप्लाई की जाती थी।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:छह वाहन चोर गिरफ्तार