class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्व माओवादी विधायक निर्वाचित

झारखंड में माओवादियों के बीच अब ऐसे लोग भी नजर आ रहे हैं जो सत्ता विरोध की अपनी मुहिम छोड़कर मुख्यधारा में आने को तैयार हैं और जिनका चुनाव व्यवस्था में विश्वास लौट आया है। ऐसे ही एक पूर्व माओवादी इस बार विधानसभा में निर्वाचित होकर आए है।

पौलुस सुरिन ऐसे पहले माओवादी हैं जिन्होंने सफलतापूर्वक विधानसभा चुनाव लड़कर जीत दर्ज की है। उन्होंने झामुमो के टिकट पर खूंटी जिले की तोरपा सीट से भाजपा के निवर्तमान विधायक कोचे मुंडा को 17 हजार 799 वोटों से पराजित किया। उल्लेखनीय है कि 2009 के लोकसभा चुनाव में पूर्व माओवादी कामेश्वर बैठा झामुमो की टिकट पर जेल से ही पलामू सीट से निर्वाचित हुए थे। बैठा अभी तक जेल में ही हैं।

एक अन्य पूर्व माओवादी कुलदीप गंजू एजेएसयू की टिकट पर सिमरिया विधानसभा सीट से चुनाव लड़े थे लेकिन सुरिन की तरह भाग्यशाली नहीं रहे। झारखंड के 24 में से 18 जिले माओवाद प्रभावित हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पूर्व माओवादी विधायक निर्वाचित