अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिटी बस सेवा निजी हाथों में

शहर में नए साल से शुरू होने जा रही सिटी बस सेवा निजी हाथों में होगी। स्टाफ के अभाव में हरियाणा राज्य परिवहन विभाग इनको चलाने की बाबत ट्रांसपोर्टरों से बातचीत शुरू कर दी है। निजी कपंनी से ड्राइवर व कंडक्टर ही लिए जाएंगे। परिवहन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि स्टॉफ भर्ती में समय लगेगा। तब तक सिटी की कमान निजी हाथों में सौंपी जा सकती है।

सिटी बस सर्विस को लेकर योजना बनाई जा चुकी है। इसके तहत वोल्वो बस नए साल से फरीदाबाद की सड़कों पर दौड़ेने लगेंगी। फिलहाल वोल्वो बस अड्डे पर खड़ी हैं। इनके लिए रोडवेज के कुछ ड्राइवरों का ट्रेंड कर दिया गया। लेकिन आने वाली 135 अन्य बसों के लिए ड्राइवरों व कंडक्टरों का कोई इंतजाम नहीं हो पाया है।

ऐसे में  सवाल खड़ा हुआ है कि आखिर इन बसों के स्टेरिंग व टिकट देने का काम कौन करेगा? 15 वॉल्वों एसी बसों के लिए भी कंडक्टर कहां से आएंगे? रोडवेज विभाग में सामान्य बसों के लिए पहले ही ड्राइवरों व कंडक्टरों की बेहद कमी है। इस कारण अनेक बसें मुख्यालय में खड़ी रहती हैं।

ऐसी स्थिति में सिटी बस सर्विस चलाने के लिए विभाग या तो रोडवेज के ड्राइवरों व कंडक्टरों को इन बसों पर लगाएगा या फिर बसें खड़ी रहेंगी। ऐसे में दोनों में से एक ही प्रकार की बसें चल पाएंगीं। अधिकारी बताते हैं कि ड्राइवरों व कंडक्टर की भर्ती करने के लिए विभाग ने कई महीनें पहले एसएस बोर्ड को सूचित किया था। पर वह अभी तक शुरू नहीं हो पाई है।  

परिवहन आयुक्त आनंद मोहन शरण ने बताया कि वॉल्वो बसें चलाने के लिए सामान्य रोडवेज बसों के ड्राइवरों को ट्रेनिंग दिला दी गई है। शुरूआती दौर में इन बसों के कंडक्टर भी रोडवेज के ही होंगे। लो-फ्लोर बसों व मिनी बसों के लिए ड्राइवरों व कंडक्टरों की भर्ती के लिए एसएसबोर्ड को कई महीने पर लिखित में दे दिया गया है।

उन्होंने स्पष्ट किया कि यदि समय रहते नई भर्ती नहीं हुई तो अवश्य ही निजी ठेकेदारों के माध्यम से ड्राइवरों व कंडक्टरों को रखा जाएगा। इसके लिए भी विभाग ने पूर्ण रूप से सक्षम ठेकेदारों की तलाश शुरू कर दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सिटी बस सेवा निजी हाथों में