DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोटला में दर्शकों ने मचाया उत्पात

कोटला में दर्शकों ने मचाया उत्पात

भारत और श्रीलंका के बीच पांचवां और अंतिम वनडे मैच रविवार को नई दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान की खतरनाक पिच के कारण रद्द होने के बाद दर्शकों ने जमकर हंगामा किया।

दर्शक सीरीज के अंतिम मैच में भारत की एक और जीत की उम्मीद के साथ स्टेडियम में आये थे और उन्हें शुरुआत में ही जश्न मनाने का मौका मिला जब जहीर खान ने बेहतरीन फार्म में चल रहे उपुल थरंगा को दिन की पहली गेंद पर आउट कर दिया।

श्रीलंका की टीम ने इसके बाद 83 रन पर अपने चोटी के पांच विकेट गंवा दिये थे और भारत की जीत की संभावनाएं प्रबल हो गई थी लेकिन तभी श्रीलंका के बल्लेबाज तिलन कंदाम्बी ने पिच के खतरनाक होने की अंपायरों से शिकायत की।

इसके बाद लगभग डेढ़ घंटे तक मैच अधिकारियों और दोनों टीमों के कप्तानों के बीच मैदान पर ही चर्चा चलती रही लेकिन इस बीच दर्शक अपना धैर्य खोते जा रहे थे।

आगे मैच होने की संभावना क्षीण होने के बाद दर्शकों ने मैदान पर पानी की बोतलें और कुर्सियां फेंकनी शुरू कर दी जबकि उन्होंने हमारे पैसे वापस करो, बीसीसीआई हाय हाय, डीडीसीए हाय हाय के नारे लगाने भी शुरू कर दिये। दर्शकों ने क्यूरेटर को बर्खास्त करो के नारे भी लगाये।

कुछ अन्य दर्शकों ने इसके बाद स्टैंड पर रखी कुर्सियां तोड़नी शुरू कर दी और इसे मैदान पर फेंकना शुरू कर दिया। दिल्ली और जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) अधिकारियों के अधिकारियों ने मैच को बचाने के लिए मैच रैफरी एलन हस्र्ट को साथ वाली पिच पर मैच कराने की पेशकश की। इन अधिकारियों में उपाध्यक्ष चेतन चौहान भी शामिल थे।

दर्शकों के उत्पात से बचने के लिए अधिकारियों ने मैच रद्द करने की घोषणा देर से की और इस बीच सुरक्षाकर्मियों की एक अतिरिक्त बटालियन बुला दी गई लेकिन उन्हें भी दर्शकों से निपटने में एड़ी चोटी का जोर लगाना पड़ा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोटला में दर्शकों ने मचाया उत्पात