अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देश को मिली बापू की विरासत

भारतीयों के लिए महात्मा गांधी से जुड़ी हर याद अनमोल है। इस वर्ष उनकी पांच निजी वस्तुओं, दक्षिण-अफ्रीका में उनके मकान, उनके हाथों से लिखी चिट्ठियों और कुछ अन्य सामान की नीलामी हुई, जिसे भारी कीमत देकर बापू के चाहने वालों ने खरीदा। साल के दौरान कुछ अन्य नीलामियां भी सुर्खियों का हिस्सा बनीं, जिनका ब्यौरा इस प्रकार है-   

बापू की यादें
न्यूयार्क में पांच मार्च को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पांच निजी वस्तुओं की नीलामी हुई, जिन्हें प्रसिद्ध उद्योगपति विजय माल्या ने 18 लाख डॉलर में खरीदा। पर्यटन मंत्री अंबिका सोनी ने छह मार्च को कहा कि भारत सरकार ने उद्योगपति विजय माल्या के जरिए राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के पांच स्मृति चिह्न खरीदे हैं, क्योंकि दिल्ली उच्च न्यायालय के स्थगनादेश की वजह से सीधे तौर पर नीलामी में हिस्सा नहीं ले सकती थी।
   
लंदन में 14 जुलाई को गांधी जी की हस्ताक्षरित चिट्ठियों की नीलामी 4,750 पाउंड में हुई। उनके हस्ताक्षर वाला खादी का एक कपड़ा 2,215 पाउंड में बिका। दक्षिण-अफ्रीका में बापू का वह मकान भी नीलाम किया गया, जिसमें बापू उस देश के प्रवास के दौरान कुछ समय तक रहे थे। भारत की ओर से कोल इंडिया ने इसे खरीदने की कोशिश की लेकिन इसे फ्रांस की एक कंपनी ने खरीद लिया।

नीलाम हुई पेंटिंग्स
जीवित किंवदंती कहे जाने वाले भारतीय चित्रकार मकबूल फिदा हुसैन के कलाकृतियों की सितंबर में सोदबी नीलामीघर में हुई बिक्री में 5,82,500 अमेरिकी डॉलर की जबदस्त रकम मिली। उनका बिवाइल्डर्ड ब्राउन नामक चित्र 3,38,500 अमेरिकी डॉलर में और वीमन इन यलो नामक चित्र 1,40,000 अमेरिकी डॉलर में नीलाम हुआ। वीएस गायतोंडे की एक गैर-शीर्षक कृति के लिए बोली फोन पर लगाई गई और यह रचना 6,02,500 अमेरिकी डॉलर में बिकी। दूसरी सबसे बड़ी बोली तय्यब मेहता के एंड बिहाइंड मी डीसोलेशन चित्र के लिए लगी जो 3,50,000 अमेरिकी डॉलर में नीलाम हुआ। दिसंबर में एक ऑनलाइन नीलामी में मंजीत बावा की एक अनाम पेटिंग पर 1.7 करोड़ रुपये की रिकॉर्ड बोली लगाई गई। इसी नीलामी में हुसैन की पेटिंग 1.4 करोड़ रुपये में बिकी।
   
हार की नीलामी
पंजाब के महाराजा रणजीत सिंह की पत्नी जिंदन कौर का 19वीं सदी का पन्ने और मोती जड़ा गले का हार आठ अक्टूबर को लंदन में एक नीलामी में अनुमानित राशि 25,000 से 35,000 पाउंड के विपरीत कहीं बड़ी राशि 55,200 पाउंड (41 लाख रुपये) में नीलाम हुआ। यह दुर्लभ हार रणजीत सिंह और जिंदन कौर (1817 से 1863) के संग्रह से मिला है।
   
अजीबो-गरीब नीलामियां
पंजाब के अंतिम सिख महाराजा दलीप सिंह की चप्पलें लंदन में दिसंबर के दूसरे सप्ताह में एक नीलामी में 18,000 पाउंड में बिकीं लेकिन उनकी भव्य जैकेट का खरीदार नहीं मिला। दलीप सिंह शेर-ए-पंजाब महाराजा रणजीत सिंह के सबसे छोटे पुत्र थे।
   
सात नवंबर को पश्चिम बंगाल के बर्दवान के एक पूर्व राजा की एक रोल्स रॉयस कार 69,700 पाउंड (53.16 लाख रुपये) में नीलाम हुई। बर्दवान के महाराज ने इसे 1927 में अपने बेटे की शादी के उपहार के तौर पर खरीदा था।
   
शिकागो के सबसे पुराने डाकघर की चार करोड़ डालर में नीलामी हुई। 14 मंजिला यह डाकघर कभी दुनिया का सबसे बड़ा डाक सेवा केंद्र था। 77 साल पुरानी इमारत की बोली की शुरूआत 27 अगस्त को तीन लाख अमेरिकी डॉलर से शुरू हुई। 1932 में 30 लाख वर्ग फुट में बने डाकघर की इमारत 1995 से खाली थी।

इंग्लैंड में टेम्स नदी पर वर्ष 1769 में बने एक टॉल ब्रिज को तीन दिसंबर को एक नीलामी में साढ़े सात करोड़ रुपये से भी ज्यादा कीमत में बेचा गया। वनफोर्ड टॉल ब्रिज से होकर हर साल तकरीबन 40 लाख गाड़ियां गुजरती हैं। इससे होने वाली कमाई डेढ़ करोड़ रुपये सालाना के करीब है।
   
अमेरिका के प्रथम राष्ट्रपति जॉर्ज वाशिंगटन के लिखे एक पत्र की नीलामी ने विश्व रिकॉर्ड बनाया। यह पत्र चार दिसंबर को न्यूयार्क सिटी में 3,218,500 डॉलर में नीलाम हुआ। जॉर्ज वाशिंगटन ने 1787 में यह पत्र अपने भतीजे बशरोद वाशिंगटन को लिखा था। यह पत्र बशरोद वाशिंगटन के वंशजों के पास 100 साल से अधिक समय से था।

एडगर एलन पो की हस्त लिखित कविताओं के एक संग्रह की नीलामी ने भी विश्व रिकार्ड बनाया। इस 19 वीं सदी की रचना के लिए 8,30,500 डॉलर की बोली लगाई गई। द वे वी वर में मशहूर अदाकारा बारबरा स्ट्रेसेंड द्वारा पहने गए एक गाउन को करीब छह हजार डॉलर और मीट दी फोकर्स के उनके एक परिधान को 18 अक्टूबर को 3500 डालर में नीलाम किया गया।
   
पॉपकिंग माइकल जैक्सन का एक दस्ताना नीलामी में 66,000 अमेरिकी डॉलर में बिका। यह सफेद दस्ताना उन्होंने 1984 के विक्ट्री टूर पर पहना था। अक्टूबर के तीसरे सप्ताह में लॉस एंजिलिस में हुई इस नीलामी में 1971 में एक टीवी शो में पहनी जैक्सन की नीले रंग की एक टाई 16,500 अमेरिकी डॉलर में बिकी। जैक्सन का एक लाल स्वेटर और सफेद हैट 44,250 अमेरिकी डॉलर में बिका। यह स्वेटर उन्होंने 1981 के अमेरिकी म्यूजिक अवॉर्ड में पहना था। छह सितम्बर को जैक्सन के वे सफेद दस्ताने मेलबर्न में एक नीलामी में 57,600 ऑस्ट्रेलियाई डॉलर में बिके, जिन्हें जैक्सन ने करीब एक दशक पहले ऑस्ट्रेलिया के एक प्रशसंक की ओर उछाला था। जैक्सन वर्ष 1996 में हिस्ट्री वर्ल्ड टूर पर ऑस्ट्रेलिया गए थे। जैक्सन ने वर्ष 1983 में मोटाउन की 25वीं वर्षगांठ पर आयोजित एक टीवी स्पेशल प्रोग्राम में जिन दस्तानों को पहन कर पहली बार मूनवॉक डांस किया था, वे दस्ताने लंदन में 21 नवंबर को 350,000 अमेरिकी डॉलर में नीलाम हुए।

रॉक एन रॉल से किवदंती बन गए महान गायक एल्विस प्रीस्ले के बालों की नीलामी भी दिलचस्प रही। अक्टूबर में प्रीस्ले के एक दीवाने ने उनकी जुल्फों के लिए 18,300 डॉलर की रकम चुकाई। उनकी उतारी कमीज 62 हजार डॉलर में और उनके रूमाल भी 732 डॉलर में बिके।
   
क्रिस्टी ऑक्शन हाउस में 23 जून को राक एंड रोल समूह बीटल्स के साजेट पेपर लोनली हार्टस क्लब बैंड एल्बम का स्मारक पोस्टर 52 हजार 500 डालर (25.48 लाख रुपये) में नीलाम हुआ। साजेट पेपर पोस्टर पर बीटल्स समूह के चारों सदस्यों जान लेनन, पाल मैककार्टनी, जार्ज हैरिसन और रिंगों स्टार के हस्ताक्षर हैं।
   
चार्ल्स डार्विन की ऑरिजिन ऑफ स्पिशीज के पहले संस्करण की लंदन स्थित क्रिस्टी नीलामी घर में 24 नवंबर को नीलामी हुई। फोन पर बोली लगाई गई और यह 103250 पाउंड (करीब 80 लाख रुपये) में नीलाम हुई। इसका पहली बार प्रकाशन 150 साल पहले किया गया था।

कुख्यात बैंक डकैत जॉन डिलिंगर द्वारा उपयोग की गई लकड़ी की एक बंदूक की नीलामी 13 दिसंबर को अमेरिका के डलास में 19,120 डॉलर में हुई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:देश को मिली बापू की विरासत