class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीपीएल परिवारों की संख्या सवा करोड़ के पार

राज्य में गरीबी रेखा के नीचे जीवन बसर करने वाले परिवारों(बीपीएल) की संख्या अब सवा करोड़ के पार पहुंच गयी है। राज्य सरकार ने वर्ष 2007 में तैयार बीपीएल सूची पर वर्ष 2008 में आयी आपत्तियों के निपटारे के बाद नई सूची तैयार कर ली है।

जो नई तस्वीर उभर कर सामने आयी है उसके मुताबिक  बीपीएल परिवारों की संख्या में करीब साढ़े तेरह लाख की वृद्धि हो गयी है। खास बात यह है कि राज्य में बीपीएल परिवारों की तादाद कुल आबादी का 57.22 प्रतिशत पायी गयी है। यानि आधी से अधिक ग्रामीण आबादी बीपीएल है।

ग्रामीण विकास विभाग से मिली जानकारी के अनुसार राज्य में ग्रामीण बीपीएल परिवारों की संख्या 1,25,55,110 है। यह ताजा आंकड़ा है। वर्ष 2007 के सर्वेक्षण के अनुसार 0 से 13 अंक वाले बीपीएल परिवारों की संख्या 1,11,89,824 थी। इसके छूटे हुए योग्य नामों को जोड़ने और हटाने के लिए सरकार ने ग्रामीण परिवारों से दावे और आपत्तियां मांगी थी।

कुल साठ लाख 64 लोगों ने आवेदन किए थे। इसके मुतल्लिक जांच के बाद 1,9,979 परिवारों के नाम हटाए गए जबकि 15,25,265 परिवारों के नाम सूची में शामिल किए गए। हटाने और जोड़ने की प्रक्रिया के बाद नई सूची तैयार की गयी है।

अब  राज्य सरकार की मांग है कि चिह्न्ति 1,25,55,110 बीपीएल परिवारों को केन्द्र सरकार द्वारा मान्यता दिया जाना अनिवार्य है ताकि उन्हें योजनाओं का लाभ मिल सके।  दूसरी ओर केन्द्र द्वारा राज्य में ग्रामीण बीपीएल परिवारों की संख्या 66.32 लाख निर्धारित की गयी है तथा इसमें दस प्रतिशत आकस्मिक रूप से गरीब हुए परिवारों को शामिल करने की गुंजाइश दी गयी है।

इस संख्या को जोड़ने के बाद भ कुल बीपीएल परिवारों की संख्या मात्र 72,95,420 ही हो पाती है जो राज्य की वास्तविक बीपीएल परिवारों की संख्या से काफी कम है।

60 प्रतिशत से अधिक गरीबों वाले जिले   

जिला   बीपीएल    कुल आबादी का प्रतिशत

किशनगंज   291826     80.48

सुपौल   343656    67.25

मधुबनी   770944    66.56

शिवहर   94193    64.45

पश्चिम चंपारण  509147    64.07

50 प्रतिशत से कम गरीबों वाले जिले

जिला   बीपीएल    कुल आबाद का प्रतिशत

सीवान   317415    43.08

लखीसराय   80155    44.41

जहानाबाद   99466    47.85

औरंगाबाद   273328    47.86

नवादा   204432 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बीपीएल परिवारों की संख्या सवा करोड़ के पार