class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राठौड़ के खिलाफ मामला दोबारा खोलने के संकेतः हुड्डा

राठौड़ के खिलाफ मामला दोबारा खोलने के संकेतः हुड्डा

उभरती हुई टेनिस खिलाड़ी रुचिका गिरहोत्रा से छेड़छाड़ मामले में सीबीआई की अदालत द्वारा छह महीने की सजा पाए हरियाणा के पूर्व डीजीपी एस़ पी़ एस़ राठौड़ के खिलाफ मामले को जनता की मांग पर दोबारा खोले जाने की संभावना पैदा हो गई है।

हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपिन्दर सिंह हुड्डा ने शनिवार को दिल्ली में कहा कि राठौड़ के खिलाफ मामले की फिर से जांच होनी चाहिए। पूर्व डीजीपी को इस गम्भीर मामले में महज छह महीने की सजा से लोगों में नाराजगी व्याप्त हो गई है।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि मामले का कानूनी तौर पर परीक्षण करने के बाद मैं सोचता हूं कि इसकी दोबारा जांच होनी चाहिए। इस पूरे मामले को फिर से खंगालने की जरूरत है। रुचिका के परिजन के प्रति मेरी पूरी सहानुभूति है।

इस बीच केन्द्र सरकार ने राठौड़ को वर्ष 1985 में प्रदान किया गया। पुलिस पदक वापस लेने और उसकी पेंशन में कटौती के लिए कदम उठाना शुरू कर दिया है।

केन्द्रीय गृह सचिव जी़ क़े पिल्लई ने कहा कि यह मामला आगामी चार जनवरी को अवार्ड कमेटी के सामने रखा जाएगा। बाद में उसकी सिफारिशें राष्ट्रपति के पास भेजी जाएंगी। उन्होंने कहा कि जहां तक पेंशन में कटौती और पुलिस अफसर होने के नाते आचरण सम्बन्धी मुद्दों का सवाल है तो इस सिलसिले में कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया गया है।

उधर, रुचिका के परिजन के वकील पंकज भारद्वाज ने रुचिका की पोस्टमार्टम रिपोर्ट खारिज कर दी है जिसमें वजन कम करने की दवा के अत्यधिक इस्तेमाल से उसकी मौत होने की बात कही गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हुड्डा ने दिए राठौड़ के खिलाफ मामला खोलने के संकेत