class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पंचेश्वर बांध पर एक कदम और

बहुप्रतीक्षित पंचेश्वर बांध परियोजना पर शुक्रवार को एक और कदम बढ़ाते हुए केंद्रीय जल संसाधन मंत्रलय के सचिव यूएन पंजियार ने प्रस्तावित बांध क्षेत्र का हवाई सर्वेक्षण किया।

जनवरी में नेपाल और भारतीय अधिकारियों के बीच बांध का निर्माण कार्य शुरू किए जाने के लिए दिल्ली में अंतिम सहमति बननी है। पंजियार ने पत्रकारों से कहा कि, पंचेश्वर परियोजना के निर्माण को लेकर नेपाल सरकार के सकारात्मक रुख के बाद यह दौरा किया गया है।

जल संसाधन सचिव पंजियार ने शुक्रवार को रामगंगा कमांड, सरयू, पंचेश्वर, तामली, पूर्णागिरि, रुपाली गाड़ व कुठाली गाड़ क्षेत्र का हवाई सर्वेक्षण कर क्षेत्र की जानकारी ली। उन्होंने बताया कि बांध निर्माण को लेकर नेपाल व भारत के बीच शीर्ष स्तर पर तैयारियां चल रही हैं।

पंचेश्वर डेवलपमेंट अथॉरिटी बनाये जाने की योजना है। इस दौरान सीडब्ल्यूसी के अधिशासी अभियंता ने पंजियार को नेपाल के माओवादियों द्वारा क्षेत्र में गाढ़ी गई झंडियों को उखाड़ने की जानकारी भी दी। इस मौके पर केंद्रीय जल आयोग के सचिव आरसी झा, भारत सरकार के एसपी कनकारन, सचिव अमरेंद्र सिन्हा, सूचना सचिव शत्रुघ सिंह, सीडब्ल्यूसी के चीफ इंजीनियर ओपी खाण्डा व एसई सीडब्ल्यूसी एके सिंह भी उनके साथ थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पंचेश्वर बांध पर एक कदम और