अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पिहानी में मोहर्रम के जुलूस पर पथराव व फायरिंग

सातवीं मोहर्रम के जुलूस पर पथराव व फायरिंग होने से भगदड़ मच गई। संवेदनशील स्थल चौहट्टा क्षेत्र में किसी ने जुलूस पर पत्थर फेंका व एक फायर हुआ। इसके बाद भगदड़ मची, चार फायर और हुए। जुलूस पर जमकर पथराव हुआ।

भगदड़ में दो समुदायों में नारेबाजी शुरू हो गई। स्थिति नियंत्रण करने में पुलिस को भी हवाई फायर करने पड़े। मौके पर मौजूद एसडीएम पद्म सिंह, सीओ हफीजुर्रहमान को हालात बिगड़ते देख पसीने छूट गए। जुलूस का नेतृत्व कर रह लोगों ने मातम कर रहे नाराज युवकों को समझा-बुझाकर जुलूस आगे बढ़ाया।

जुलूस आगे बढ़ने के बाद इस्लामगंज बाजार में तैनात पुलिस कर्मियों पर एक समुदाय के युवकों ने पथराव शुरू कर दिया। पुलिस ने दोबारा हवाई फायर करके स्थिति नियंत्रण में की। डीएम डॉ. बलकार सिंह व एसपी ओपी सागर संवेदनशील क्षेत्र में पहुँचे। एसपी ने बताया कि 10 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

दोषियों पर एनएसए के तहत कार्रवाई होगी। रौजा गेट पर ही जुलूस का नेतृत्व कर रहे मौलाना गुलाम अली ने डीएम व एसपी की मौजूदगी में ही प्रशासन पर जुलूस की हिफाजत न कर पाने का आरोप लगाया। भीड़ ने पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए।

मौलाना गुलाम अली ने दूसरे समुदाय के एक चर्चित पेश इमाम पर घटना को अंजाम दिलाने का आरोप लगाया है। वारंट जारी होने के बावजूद भी पुलिस ने उक्त पेश इमाम को गिरफ्तार नहीं किया। उन्होंने अगला जुलूस अपने समुदाय के बलबूते पर निकालने की बात कही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पिहानी में मोहर्रम के जुलूस पर पथराव व फायरिंग