class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंदी और हड़ताल को दिखाया ठेंगा

मंदी और हड़ताल को दिखाया ठेंगा

पूरे साल हर दूसरे चैनल पर धड़ाधड़ शोज लॉन्च होते रहे। छोटे पर्दे ने अपने आपको इतना मजबूत कर लिया कि आर्थिक मंदी और साल 2008 के अंत में हुई टीवी की हड़ताल (करीब 2 महीने तक चली) भी उसका कुछ नहीं बिगाड़ पाई। यही वजह है कि साल 2009 में लगभग हर चैनल पर सबसे ज्यादा शोज लॉन्च हुए और दर्शकों को नए-नए कॉन्सेप्ट के शो देखने को मिले। एक-दूसरे से आगे बढ़ने की होड़ में सभी चैनलों ने अलग-अलग तरह के रियलिटी शोज, सीरियल्स आदि लॉन्च किये। टीआरपी भुनाने की इस जुगत में कई चैनलों ने तो अपने शो में भारी-भरकम राशि भी लगाई और उस शो के हिट होते ही तुरंत दूसरे शो के प्रोमोज चला दिए, जिससे उनके दर्शकों का ध्यान किसी अन्य चैनल पर न चला जाए। स्टार प्लस, जीटीवी, कलर्स जैसे कई चैनलों पर एक के बाद एक कई शो प्रसारित हुए। सबसे पहले कलर्स की बात करें तो इस चैनल ने टीवी की दुनिया में कदम रखते ही सालों से चले आ रहे सास-बहू के ड्रामे पर विराम लगाया और दर्शकों के टेस्ट बदल कर उनके सामने नए-नए शो पेश किए। ‘उतरन’, ‘ना आना इस देश लाडो’, ‘बैरी पिया’ जैसे बड़े हिट्स देने के बाद भी साल के अंतिम दिनों में दो नए शो ‘लागी तुझसे लगन’ और ‘ये प्यार ना होगा कम’ लॉन्च करने की तैयारी जोरों पर है। कलर्स पर इस साल 17 नए शोज लॉन्च हुए। स्टार प्लस ने आखिरकार सास-बहू ड्रामे को बॉय-बॉय कहते महिलाओं को केन्द्रित करते शोज के साथ-साथ क्षेत्रीय भाषा पर ध्यान दिया और इस साल करीब 13 नए शोज लॉन्च किए।  जीटीवी पर सालभर में लगभग 8 नए शोज प्रसारित हुए। ‘अगले जन्म मोहे बिटिया ही कीजो’, ‘आपकी अंतरा’, ‘पवित्र रिश्ता’ और ‘12/24 करौलबाग’ जैसे धारावाहिकों से इस चैनल में बदलाव आता दिखा। एकदम अलग थीम पर बने इन धारावाहिकों ने दर्शकों के दिल में अपनी ऐसी जगह बनाई कि जीटीवी के प्रशंसक बढ़ते चले गए। इस साल सोनी ने भी कई नए शो लॉन्च किए। अपनी टीआरपी को बढ़ाने और वापस फॉर्म में आने के लिए सोनी ने ‘भास्कर भारती’, ‘बेताब दिल की तमन्ना’ और ‘लेडीज स्पेशल’ जैसे कई धारावाहिक लॉन्च किए। डीपीएल और आहट-4 की शुरुआत भी इस साल की गई, जिसमें कोरियोग्राफर और उनकी टीम ने मिल कर अपने ठुमकों से दर्शकों का मनोरंजन किया। सोनी ने करीब 12 से अधिक नए शोज लॉन्च किये। अगले साल 1 जनवरी से शुरू होने जा रहे यशराज बैनर तले बनाए गए पांच नए शो के प्रोमोज इस चैनल पर ही देखने को मिल रहे हैं। एनडीटीवी इमेजिन पर भी लगभग 9 नए शोज लॉन्च हुए। सब टीवी पर भी इस साल सीरियल की बहार रही। इस साल सब पर लगभग 11 नए शोज लॉन्च हुए। लाइट कॉमेडी पर बने यह सभी शोज दर्शकों को खूब पसंद आए। ‘मणिबेन डॉट कॉम’, ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’, ‘गनवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’, ‘लापतागंज’ और ‘सजन रे झूठ मत बोलो’ जैसे शोज की रेटिंग भी काफी अच्छी रही। म्यूजिक चैनल पर भी  नए-नए शो की धूम रही। बिंदास पर ‘बिग स्विच’, ‘दादागिरी-2’ और हाल ही में शुरू हुआ ‘इमोशनल अत्याचार’ भी दर्शकों के बीच अपनी पकड़ बना रहा है। चैनल वी पर भी इस साल कई शो लॉन्च हुए, जिनमें से कुछ यंग जनरेशन के बीच बहुत ही लोकप्रिय रहे। ‘डेयर टू डेट’, ‘एक्जॉस्टेड’, ‘किडनैप’, ‘लॉन्च पैड’ जैसे मजेदार शो ने चैनल वी को सभी म्यूजिक चैनल में सबसे अलग लाकर खड़ा कर दिया। कुल मिला कर देखा जाए तो मंदी की मार और हड़ताल को पीछे छोड़ते हुए छोटे पर्दे पर नए-नए शो का बाजार गर्म रहा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मंदी और हड़ताल को दिखाया ठेंगा