DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अयोध्या और मोदी पर वाजपेयी से मतभेद थे: आडवाणी

अयोध्या और मोदी पर वाजपेयी से मतभेद थे: आडवाणी

 भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने स्वीकार किया कि अयोध्या आंदोलन और गुजरात दंगों के बाद वहां के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी को हटाए जाने को लेकर उनके पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से मतभेद थे।

वाजपेयी के 86 वें जन्मदिवस पर उनके बारे में लिखे लेख में आडवाणी ने कहा कि अयोध्या आंदोलन में भाजपा के सीधे जुड़ने को लेकर वाजपेयी को आपत्ति थी। लेकिन उन्होंने पार्टी के सामूहिक निर्णय को स्वीकार करके यह दर्शाया कि वह पूरी तरह से लोकतांत्रिक हैं।

लिब्रहान आयोग की रिपोर्ट में बाबरी मस्जिद ढहाए जाने के लिए वाजपेयी को दोषी बताए जाने का भाजपा और खासतौर से आडवाणी ने कड़ा प्रतिवाद किया है।

अयोध्या आंदोलन के अलावा वाजपेयी मोदी मामले में भी आडवाणी से भिन्न राय रखते हैं। भाजपा संसदीय दल के चेयरमैन ने कहा कि अटलजी पार्टी में उन लोगों में थे जो मानते थे कि मोदी को मुख्यमंत्री पद छोड़ने को कहना चाहिए। गुजरात में बड़ी संख्या में लोगों से बातचीत के बाद मेरा मानना था कि मोदी को अनुचित निशाना बनाया जा रहा है।

आपातकाल में वाजपेयी के साथ जेल में रहे और बाद में उनकी सरकार में उप प्रधानमंत्री बने आडवाणी ने पूर्व प्रधानमंत्री की प्रशंसा करते हुए कहा कि अगर वह जान जाते थे कि किसी बात पर मैं रजामंद नहीं हूं तो वह उस पर कभी आगे नहीं बढ़ते थे।

इंडियन एक्सप्रेस में लिखे लेख में आडवाणी ने माना कि वाजपेयी की वाकपटुता के आगे वह काफी साल तक हीन भावना में रहे और इसके चलते 1972 में पार्टी अध्यक्ष बनाने की पेशकश किए जाने पर उससे कतराने का प्रयास किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अयोध्या और मोदी पर वाजपेयी से मतभेद थे: आडवाणी