अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सेंटअप न होने पर किया हंगामा

सेंटअप नहीं किए जाने पर गुस्साए वाणिज्य महाविद्यालय के छात्रों ने जमकर हंगामा मचाया। छात्रों का आरोप है कि कॉलेज ने फार्म भरने के समय आश्वस्त किया था कि अतिरिक्त कक्षाएं करने पर परीक्षा में बैठने की अनुमति दे दी जाएगी, लेकिन अब जब सेंटअप चार्ट आया है तो उनमें इन छात्रों का नाम ही नहीं। इस पर छात्रों ने पहले कॉलेज मुख्यालय पर हंगामा मचाया। वहां पर उन्हें विवि प्रशासन से बात करने को कहा गया तो छात्र विवि मुख्यालय पर पहुंचकर हंगामा करने लगे।ड्ढr ड्ढr छात्रों के गुस्से को देखते हुए उनके प्रतिनिधियों के साथ विवि पदाधिकारियों की बात हुई। वहां पदाधिकारियों ने छात्रों को कॉलेज स्तर पर ही समस्या के समाधान की बात कही। इसके बाद आक्रोशित छात्रों ने कॉलेज में जमकर नारबाजी की। इसके बाद प्राचार्य डा. बीएन पांडेय ने समझाया और कहा कि सही छात्रों के नाम सेंटअप लिस्ट में है। विश्वविद्यालय प्रशासन का नियम है कि 75 फीसदी कक्षा करने वाले छात्रों को ही सेंटअप किया जाएगा। डा. पांडेय ने बताया कि फार्म भरते समय उन छात्रों को अतिरिक्त कक्षा करने का निर्देश दिया गया था। उन छात्रों ने भी फार्म भर दिए जो 20-30 फीसदी ही कक्षा किए थे। अब उन छात्रों की कक्षाएं 60 फीसदी भी पूरी नहीं हो रही हैं। इस कारण उन्हें परीक्षा में भाग लेने की अनुमति नहीं दी गयी।ड्ढr ड्ढr वहीं छात्रों का कहना है कि कॉलेज प्रशासन धोखाधड़ी कर रहा है। छात्र नागेंद्र, मोनू, अमन, प्रगति, आशीष आनंद, शशिरांन, सीमा ने बताया कि पहले ही हमें बता दिया जाता कि अतिरिक्त कक्षाएं व एसाइनमेंट के बाद भी हमें परीक्षा में शामिल नहीं होने दिया जाएगा, तो फार्म ही नहीं भरते।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सेंटअप न होने पर किया हंगामा