class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोलकाता में दिखा दिल्ली का दम, भारत श्रृंखला जीता

कोलकाता में दिखा दिल्ली का दम, भारत श्रृंखला जीता

दिल्ली के दो बल्लेबाजों गौतम गंभीर (नाबाद 150) और विराट कोहली (107) ने गुरुवार को यहां ईडन गार्डन्स पर अपने कैरियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए भारत को चौथे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में श्रीलंका पर सात विकेट की जोरदार जीत के साथ पांच मैच की श्रृंखला में 3-1 से अजेय बढ़त दिलायी। इन दोनों बल्लेबाजों ने श्रीलंका के सलामी बल्लेबाज उपुल थरांगा (118) के शतक को भी फीका कर दिया। थरांगा और कप्तान कुमार संगकारा (60) ने अपनी शुरू में मिले जीवनदान का फायदा उठाकर तीसरे विकेट के लिये 126 रन की भागीदारी करके श्रीलंका को छह विकेट पर 315 रन के मजबूत स्कोर तक पहुंचाया।

यह ईडन गार्डन्स पर सबसे बड़ा स्कोर था जो चंद घंटों तक ही श्रीलंका के नाम पर रहा। कोहली और गंभीर ने भारतीय सलामी जोड़ी के जल्द पवेलियन लौटने के बाद पूरी जिम्मेदारी से पारी आगे बढ़ायी तथा तीसरे विकेट के लिये रिकार्ड 224 रन जोड़े जिससे भारत ने 48.1 ओवर में तीन विकेट पर 317 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की। अब दिल्ली में 27 दिसंबर को होने वाला मैच श्रृंखला में परिणाम के लिहाज से औपचारिक रह गया है ।

कोहली ने अपने कैरियर का सर्वोच्च स्कोर बनाया और कुल 114 गेंद खेलकर 11 चौके और एक छक्का जमाया जबकि गंभीर ने भी अपने पिछले सर्वोच्च स्कोर की बराबरी की। इसके लिये उन्होंने 137 गेंद पर 14 चौके लगाये। इन दोनों ने श्रीलंका के खिलाफ तीसरे विकेट के लिये वीरेंद्र सहवाग और युवराज सिंह के बीच इसी साल कोलंबो में निभायी 221 रन की साझेदारी का रिकार्ड भंग किया।

भारत ने इस मैच में लगभग आधी टीम (पांच खिलाड़ी) दिल्ली की उतारी थी। आशीष नेहरा और इशांत शर्मा गेंदबाजी में खर्चीले साबित हुए जबकि कप्तान सहवाग का बल्ला भी नहीं चला लेकिन गंभीर और कोहली ने प्रशसंकों को निराश नहीं होने दिया। इन दोनों ने ऐसे समय में जिम्मेदारी संभाली जबकि भारत ने 23 रन के स्कोर पर सहवाग (10) और सचिन तेंदुलकर (आठ) के विकेट गंवा दिये थे।

सहवाग बतौर कप्तान बल्लेबाजी में फिर से असफल रहे और दूसरे ओवर में ही सूरज लखमल की शार्ट पिच गेंद पर तिलकरत्ने दिलशान को कैच देकर पवेलियन लौट गये। लखमल ने अपने अगले ओवर में तेंदुलकर को भी आउट करके भारत का स्कोर दो विकेट पर 23 रन कर दिया।

गंभीर और कोहली ने रन गति बनाये रखते हुए श्रीलंकाई गेंदबाजों को आगे विकेट के लिये तरसा दिया। दोनों ने शुरू में आक्रामक तेवर दिखाये लेकिन अच्छी गेंदों को उन्होंने पूरा सम्मान भी दिया। दोनों के स्कोर लगभग साथ-साथ आगे बढ़ रहे थे। लेसिथ मालिंगा के पहले ओवर में चार चौके जमाने वाले कोहली ने अपने सीनियर साथी से थोड़ा पहले अपना अर्धशतक पूरा किया। यह दोनों एक दूसरे के स्कोर का कितना अनुसरण कर रहे थे इसका अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि कोहली ने दिलशान की गेंद पर मिडविकेट क्षेत्र में एक रन लेकर अपना पहला वन डे शतक पूरा किया जबकि गंभीर ने अगली गेंद को बैकवर्ड प्वाइंट पर एक रन के लिये खेलकर सातवां शतक जमाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोलकाता में दिखा दिल्ली का दम, भारत श्रृंखला जीता