अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूरोपियन यूनियन

हाल में यूरोपियन यूनियन में कोपेनहेगन बैठक विफल होने के लिए भारत और चीन को जिम्मेदार माना है। यूरोपियन यूनियन, 27 सदस्य देशों का राजनीतिक और आर्थिक संगठन है। यूरोपियन यूनियन की स्थापना मास्ट्रिक संधि के तहत 1 नवंबर, 1983 को हुई थी।

इस यूनियन ने एक स्टैंडर्ड सिस्टम द्वारा सिंगल मार्केट बनाया है जिसमें सभी सदस्यों पर समान नियम लागू होते हैं। इसके 16 सदस्यों ने कॉमन पालिसी अपनाई है। इसके 16 सदस्यों की एक मुद्रा ‘यूरो’ है। इसके सदस्यों में ऑस्ट्रिया, बेल्जियम, बल्गारिया, साइप्रस, चेख रिपब्लिक, डेनमार्क, एस्टोनिया, फिनलैंड, फ्रांस, जर्मनी, ग्रीस, हंगरी, आयरलैंड, इटली, लाटविया, लिथुएनिया, लग्जेमबर्ग, माल्टा, नीदरलैंड, पोलेंड, पुर्तगाल, रोमानिया, स्लोवाकिया, स्लोवनिया, स्पेन, स्वीडन और ब्रिटेन आदि हैं।

गौर करने वाली बात है कि किसी भी सदस्य देश ने यूनियन अभी तक नहीं छोड़ी है। इसके अलावा, तीन आधिकारिक उम्मीदवार देश हैं-तुर्की, क्रोएशिया, मैकडोनिया। यूरोपियन यूनियन को इसकी राजनीतिक लीडरशिप, यूरोपियन काउंसिल से मिलती है। इसकी बैठक चार साल में एक बार होती है जिसमें प्रत्येक सदस्य देश का एक प्रतिनिधि होता है।

सदस्य देशों के प्रतिनिधि को उस देश के विदेश मंत्रियों द्वारा सहयोग मिलता है। 19 नवंबर, 2009 को हर्मन वॉन रोंपाय को यूरोपियन काउंसिल का पहला प्रेसीडेंट चुना गया। यूरोपियन संसद, आधी यूरोपियन यूनियन व्यवस्थापिका बनाती है। यूरोपियन संसद के 736 सदस्यों का चुनाव प्रत्येक पांच वर्ष में यूरोपियन यूनियन नागरिकों द्वारा सीधे तौर से किया जाता है। प्रत्येक देश की सीटों की संख्या निश्चित होती है। यूरोपियन संसद का प्रेसीडेंट, संसद में स्पीकर का रोल अदा करता है। प्रेसीडेंट और वाइस प्रेसीडेंट का चुनाव संसद द्वारा प्रत्येक ढाई वर्ष में होता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूरोपियन यूनियन