class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार के प्रखंड अस्पतालों में तैनात होंगी महिला डाक्टर

प्रखंड स्तर के सभी 534 अस्पतालों में महिला डाक्टर नियुक्त होंगी। 101 अनुमंडल और 38 जिला अस्पतालों में आंख के डॉक्टर तैनात होंगे। विधानसभा में स्वास्थ्य मंत्री नन्दकिशोर यादव ने यह घोषणा की।

निर्दलीय विधायक लाल बाबू राय के ध्यानाकर्षण सूचना पर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि प्रदेश में डॉक्टरों के 8281 पदों के विरुद्ध 4757 स्थायी और 1757 संविदा पर डाक्टर नियुक्त हैं। 2132 डाक्टरों की नियुक्ति की कारवाई जारी है। बीपीएससी को नियुक्ति के लिए कहा गया है।

उन्होंने कहा कि सिर्फ इंटरव्यू पर इन डाक्टरों की नियुक्ति होनी है। उम्मीद है कि दो महीने के अन्दर बीपीएससी इन डाक्टरों का चयन कर लेगा। उसके बाद सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों (प्रखंड स्तर के अस्पताल) में चार-चार विशेषज्ञ डाक्टर तैनात हो जाएंगे। इसमें एक स्त्री रोग विशेषज्ञ, एक शिशु रोग विशेषज्ञ, एक एनेस्थेटिस्ट और एक सर्जन होंगे।

गांव स्तर पर ही डाक्टरी सुविधा का लाभ देन के लिए सरकार ने सभी 1243 अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों (एपीएचसी) में हप्ते में तीन दिन ओपीडी की शुरूआत की है। संबंधित पीएचसी में पदस्थापित डाक्टरों को अपने प्रखंड के सभी एपीएचसी में तीन दिन मरीज देखने का निर्देश दिया गया है।

पहली नवम्बर से यह प्रक्रिया चालू है। उन्होंने स्वीकार किया कि पीएचसी स्तर पर आंख के डाक्टर नहीं होने से मरीजों को परेशानी हो रही है। पर सूबे में आंख के डाक्खरों की कमी के कारण हर पीएचसी में उनकी व्यवस्था करना फिलहाल संभव नहीं है।

राजद के रामानुज प्रसाद के गैर सरकारी संकल्प पर श्री यादव ने सोनपुर रेफरल अस्पताल में अनुमंडल अस्पताल की सभी सुविधाएं उपलब्ध कराने और दर्जा देने का आश्वासन दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिहार के प्रखंड अस्पतालों में तैनात होंगी महिला डाक्टर