अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भांजी को जलाकर मारने के लिए मामाओं को दस साल की कैद

वाराणसी के अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश (एकादश) पीके श्रीवास्तव ने भांजी को जलाकर मारने के आरोपित दो मामाओं को दोषी करार देते हुए दस-दस साल की कैद की सजा सुनाई है।

अदालत ने दस-दस हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है। अदालती सूत्रों ने बताया कि अपर जिला एवं सत्र न्यायालय ने भांजी को जलाकर मारने के आरोपी दो मामाओं सलीम व मुन्ना को दोषी करार देते हुए यह सजा सुनाई।

सिगरा के लहंगपुरा निवासी तारामुन्नी अपनी बेटी सीमा के साथ मायके में रहती थी। आपसी रंजिश के चलते 11 जुलाई 2004 की दोपहर दोनों मामाओं ने भांजी के शरीर पर मिट्टी का तेल छिड़ककर उसे जिंदा जला दिया था।

गंभीर रूप से जली सीमा ने मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में बयान दिया था और बाद में अस्पताल में उसकी मौत हो गई। अदालत ने इस मामले की सुनवाई करते हुए दोनों पक्षों की बाते सुनने एवं साक्ष्यों के अवलोकन के बाद आरोपियों को सजा सुनाई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भांजी को जलाकर मारने वाले मामाओं को सजा