class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली राष्ट्रमंडल में नहीं आएंगे इंग्लैंड के चोटी के एथलीट

दिल्ली राष्ट्रमंडल में नहीं आएंगे इंग्लैंड के चोटी के एथलीट

दिल्ली में अगले साल होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों की एथलेटिक्स और जिमनास्टिक स्पर्धाओं में इंग्लैंड के चोटी के खिलाड़ी भाग नहीं ले पाएंगे। इंग्लैड के इन खिलाड़ियों को 2012 के लंदन ओलंपिक खेलों के लिये अपनी तैयारी के कारण यह फैसला लिया है।

ओलंपिक खेलों की हेप्टाथलन कांस्य पदक विजेता केली सोथर्टन, लंबी दूरी की धाविका पाउला रेडक्लिफ, जेसिका एनिस, बेथ ट्वीडल, डॉन कीटिंग्स और लुईस स्मिथ आदि कुछ शीर्ष खिलाड़ी हैं, जो दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों में भाग नहीं लेने जा रहे हैं।

अखबार टेलीग्राफ के अनुसार राष्ट्रमंडल खेलों की 17 स्पर्धाओं का स्वर्ण पदक जीतना किसी भी खिलाड़ी के करियर के लिये महत्वपूर्ण है, लेकिन फिर भी कुछ एथलेटिक्स और जिमनास्टिक के चोटी के खिलाड़ियों ने दिल्ली नहीं आने का फैसला किया, क्योंकि वे लंदन ओलंपिक खेलों के लिये अपनी तैयारी लगे हुए हैं।

इंग्लैंड टीम के दल प्रमुख कैग हंटर ने इस बात को गलत बताया कि खिलाड़ियों ने बड़े स्तर पर दिल्ली खेलों का बहिष्कार करने का फैसला किया हैं। राष्ट्रमंडल खेलों के दो साल बाद लंदन ओलंपिक होने हैं। कुछ खेलों के खिलाड़ी राष्ट्रमंडल खेलों को ओलंपिक खेलों के लिये अपनी तैयारियों का जरिया मान कर चल रहे हैं।

हंटर ने कहा कि यह हमारे लिए चुनौती है। हम राष्ट्रमंडल खेलों में श्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहते हैं। हम खेलों में चोटी का देश बनना चाहते हैं। इस बीच दोहरे ओलंपिक चैम्पियन तैराक रिबेका एडलिंगटन ने कहा है कि वह दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों में भाग लेगा और जीत दर्ज करेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दिल्ली राष्ट्रमंडल में नहीं आएंगे इंग्लैंड के चोटी के एथलीट