DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अवैध निर्माण पर बरसाए घन

झील विकास प्राधिकरण ने बुधवार को मल्लीताल में पिलग्रिम लाज के पास अवैध रूप से बनाए गए एक बहुमंजिले भवन के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस की मौजूदगी में सुबह कार्रवाई शुरू की गई। प्राधिकरण ने अप्रैल में इसको सील कर दिया था। बावजूद इसके निर्माणकर्ता इसमें निर्माण जारी रखे था।

बुधवार की सुबह ङील विकास प्राधिकरण सचिव व एडीएम धीराज सिंह गव्र्याल के नेतृत्व में प्राधिकरण टीम ने में अवैध रूप से बन रहे जमील अहमद व नदीम अहमद पुत्र रईश अहमद अंसारी के भवन में पहुंचकर ध्वस्तीकरण की कार्रवाई शुरू कर दी।

इस बीच करीब दो दजर्न मजदूरों ने घन-सब्बलों से भवन की पांचवीं मंजिल में बने पीलर व चौथी मंजिल के लेंटर को तोड़ा। प्राधिकरण सचिव धीराज सिंह गव्र्याल ने बताया कि भवन पूरी तरह अवैध है। मार्च 2009 में यह भवन सिर्फ दो मंजिला था। करीब 400 वर्ग मीटर में बना यह भवन अवैध होने के कारण निर्माणकर्ताओं को नोटिस दिया गया था।

इसके बाद अप्रैल में इसे सीज किया गया। इसके बावजूद निर्माणकर्ता ने जुलाई में नियमों का उल्लंघन कर फिर से निर्माण कार्य शुरू कर भवन को चार मंजिला कर दिया। लिहाजा अब भवन को तोड़ा जा रहा है। अवैध निर्माण को तोड़ते समय मल्लीताल कोतवाली से कोतवाल केएस ह्यांकी ने नेतृत्व में पर्याप्त पुलिस बल तैनात किया गया था। इस मौके पर प्राधिकरण एई बीएस नेगी, जेई मनोज जोशी, हेमंत रावत, सतीश चौहान आदि
मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अवैध निर्माण पर बरसाए घन