class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत-पाक संबंधों का दूत नहीं हूं: रिचर्ड होलब्रूक

भारत-पाक संबंधों का दूत नहीं हूं: रिचर्ड होलब्रूक

अफगानिस्तान और पाकिस्तान के लिए अमेरिका के विशेष दूत रिचर्ड होलब्रूक ने स्पष्ट किया है कि वह भारत-पाक संबंधों के दूत नहीं हैं और कहा कि क्षेत्र में भारत को बेहद अहमियत देते हैं एवं ओबामा प्रशासन की अफ-पाक नीति पर भारत से सतत विचार विमर्श करते रहते हैं।

पीबीएस न्यूज चैनल पर दिए साक्षात्कार में होलब्रूक ने कहा, मैं कोई दूत नहीं हूं, मेरा पद भी विशेष दूत नहीं है़ और मैं भारत-पाकिस्तान संबंधों पर काम नहीं कर रहा हूं।

एक सवाल पर उन्होंने कहा कि मेरी जिम्मेदारी केवल अफगानिस्तान और पाकिस्तान तक है, लेकिन मैं भारत से विचार विमर्श करता हूं और हर बार उन्हें सूचित करता हूं। मैं वहां नियमित रूप से जाता रहता हूं और शायद अगले माह भी वहां जाउं।

उन्होंने कहा कि क्षेत्र में अमेरिका क्या कर रहा है, इस बारे में वह भारत को बताते रहते हैं और उससे सलाह-मश्विरा भी करते रहते हैं। होलब्रूक ने कहा, लेकिन मैं भारत-पाकिस्तान संबंधों पर काम नहीं करता। यह काम खुद उन दोनों देशों को करना है। दोनों देश जिस बात पर राजी होंगे, हम हमेशा उसका समर्थन करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत-पाक संबंधों का दूत नहीं हूं: रिचर्ड होलब्रूक