class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुरंग में हादसा फोरमैन की मौत

भिलंगना नदी पर घुत्तू में बनाई जा रही 24 मेगावाट की विद्युत परियोजना की निर्माणाधीन सुरंग के अंदर कार्य कर रहे फोरमैन की सोमवार देर रात मलबे में दबकर मौत हो गयी। मलबा इतना अधिक था कि शव को निकालने में 15 घंटे से अधिक का समय लग गया। अभी तक मामले की रिपोर्ट दर्ज नहीं हो पायी है।

घुत्तू में पोली पैक्स कम्पनी के द्वारा बनायी जा रही लघु जल विद्युत परियोजना में सोमवार सायं बोकेट का ऑपरेटर व फोरमैन सुरंग के भीतर गए थे। इसी दौरान ऊपर से भारी मलबा गिर गिर गया। औपरेटर ने तो भागकर जान बचा ली लेकिन फोरमैन 50 वर्षीय प्रभाकर झा पुत्र जनार्दन झा निवासी ग्राम डिमई थाना फूलडूमर जिला बंका बिहार मलबे में ही दब गया। 

बोकेट ऑपरेटर ने रात ही में कम्पनी के प्रभारी को हादसे की सूचना दी। इसके बाद कंपनी के लोग सुरंग के अंदर मलबे में दबे फोरमैन को निकालने अंदर पहुंचे। 15 घंटे बाद प्रभाकर का शव निकाला गया। पुलिस ने शव को  पोस्टमार्टम के लिए नई टिहरी भेज दिया। एसओ एमपी सैनी ने कहा कि, फोरमैन के परिजनों को सूचना दे दी गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सुरंग में हादसा फोरमैन की मौत