class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घने रेशमी बाल

काले, घने, रेशम से मुलायम, लहराते बालों की चाह भला किसे नहीं होगी! यह सपना सच करने के लिए हम तरह-तरह के केशनिखार तेल, शैंपू, वनस्पतियां और सौंदर्य-प्रसाधन प्रयोग करते हैं। असल में जरूरत कुछ बुनियादी बातों पर ध्यान देने की ही है।

साफ-सफाई के छोटे-छोटे नियम : बालों को साफ-सुथरा रखें। उन्हें धोने के लिए सामान्य शैंपू, साबुन, शिकाकाई, रीठा या सिरका काम में ला सकते हैं। इन चीजों में कार्बनिक अम्ल होते हैं जो बालों पर चिपकी मैल को धो डालने में मदद करते हैं। मुल्तानी मिट्टी या दही में बेसन घोलकर बाल धोना भी उपयोगी है। साफ रहने से बाल सुंदर दिखते हैं। उनकी चमक भी बनी रहती है।

हफ्ते में दो-तीन बार बाल धोएं : इसे नियम बना लें, लेकिन बीच में भी बालों में मैल नजर आए तो उन्हें धोने में कोताही न बरतें। जब-जब बाल धोएं ध्यान रखें कि शैंपू या साबुन बालों में न छूटे। सर पर खूब पानी डाल बाल भली-भांति धो लें।

पोषक शैंपूओं का सच : विज्ञापनों में अक्सर दिखाया जाता है कि बालों को पोषक तत्व युक्त शैंपू से धोने, प्राकृतिक पदार्थ जैसे बेसन और अंडे, नींबू, हल्दी, हरे फल, वनस्पतियां इत्यादि लगाने से बालों को मजबूती मिलती है। यह सच नहीं है। बालों की आवरण-परत एक ऐसे पदार्थ से बनी है जो किसी भी पोषक तत्व को बाल के भीतर नहीं पहुँचने देता।

अत: प्रोटीन, विटामिन और पोषक तत्वों से भरपूर महंगे शैंपूओं का प्रयोग बेमायने है। सौंदर्य-विशेषज्ञ चाहे इससे सहमत न हों, लेकिन सच है कि बाल केरेटिन नामक अगम्य पदार्थ से बने हैं। उनका उगना भी पूरे तौर पर उनकी उस जड़ पर निर्भर करता है जो त्वचा में दबी होती है।
जारी..

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:घने रेशमी बाल