class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बड़ा रेल हादसा टला

उत्तर प्रदेश के कानपुर में मंगलवार की सुबह मुम्बई से आ रही पुष्पक एक्सप्रेस और मालगाडी के एक ही लाइन पर आ जाने से दिल्ली-हावडा मुख्य मार्ग पर एक बडा रेल हादसा होते-होते बच गया। सहायक मंडल वाणिज्य प्रबन्धक अनिल कुमार गुप्त ने इसकी पुष्टि की और बताया कि मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। रिपोर्ट आने पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 
 

उन्होंने बताया कि सुबह करीब छह बजकर 25 मिनट पर कानपुर यार्ड से दिल्ली के लिए चली मालगाडी, गोविन्दपुरी रेलवे स्टेशन के पास रेड सिग्नल से आगे निकल गई। उसी लाइन पर मुम्बई से पुष्पक एक्सप्रेस आ रही थी।
 
गुप्ता ने बताया कि आनन फानन में पुष्पक एक्सप्रेस को रोक लिया गया। इसकी वजह से पुष्पक और तूफान एक्सप्रेस समेत कई गाडि़या लेट हो गईं। इससे पहले गत 29 अक्तूबर को रेलवे इन्जीनियरिग विभाग की एक
गाडी और दिल्ली से आ रही शताब्दी एक्सप्रेस कानपुर से करीब सत्तर किलोमीटर दूर रुरा रेलवे स्टेशन के पास एक ही लाइन पर आ गई थी। इस मामले में एक रेलवेकर्मी को निलम्बित कर दिया गया था। इसी तरह की एक अन्य घटना में मथुरा के निकट मेवाड़ एक्सप्रेस और गोवा एक्सप्रेस एक ही रेल लाइन पर आ गई थी। जिससे दोनो की भिडन्त में 21 लोगों की जान गई थी और बडी संख्या में लोग घायल हुए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बड़ा रेल हादसा टला