class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अनिवार्य मतदान, भाजपा ने की राष्ट्रीय बहस की मांग

अनिवार्य मतदान, भाजपा ने की राष्ट्रीय बहस की मांग

गुजरात सरकार के मतदान को अनिवार्य बनाने के फैसले पर राष्ट्रीय बहस की मांग करते हुए भाजपा ने मंगलवार को कांग्रेस और वामदलों की बिना अपना दिमाग लगाए इसका विरोध करने पर आलोचना की।

गुजरात विधानसभा ने शनिवार को स्थानीय निकाय चुनावों में मतदान को अनिवार्य बनाने संबंधी विधेयक पारित किया था। कांग्रेस और वाम दल इसका विरोध करते हुए कह रहे हैं कि लोगों को मतदान के लिए बाध्य नहीं किया जा सकता।

विधेयक को प्रयोगधर्मी और उपयोगी की संज्ञा देते हुए भाजपा नेता वैंकेया नायडू ने कहा कि इसे दूसरे प्रदेशों में प्रयोग के तौर पर लागू करने पर विमर्श होना चाहिए।

नायडू ने कहा इस पर एक राष्ट्रव्यापी बहस होनी चाहिए। कांग्रेस और वाम दल बिना दिमाग लगाए इसका विरोध करने में जुट गए हैं, ताकि प्रदेश के मुख्यमंत्री मोदी का विरोध किया जा सके।

उन्होंने कहा कि नागरिकों के अधिकारों में जिम्मेदारियां भी जुड़नी चाहिए और मतदान अधिकार और जिम्मेदारी दोनों है। जरूरी वस्तुओं के आसमान छूते दामों के लिए नायडू ने कांग्रेस नीत संप्रग सरकार को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि भाजपा जल्दी ही कीमतों में बढ़ोतरी और सरकार के इससे निपट न पाने के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेगी।

तेलंगाना मुद्दे पर टिप्पणी देते हुए नायडू ने प्रदर्शन करने वालों से अनशन वापस लेने की अपील की। उन्होंने कहा कि हर एक जीवन महत्वपूर्ण है और समस्या के समाधान के लिए राजनीतिक विमर्श की जरूरत है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अनिवार्य मतदान, भाजपा ने की राष्ट्रीय बहस की मांग