class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमेरिका में अन्य प्रवासियों से भारतीय आगे: फोर्ब्स

अमेरिका में अन्य प्रवासियों से भारतीय आगे: फोर्ब्स

प्रमुख व्यापार पत्रिका फोर्ब्स ने कहा कि अमेरिका में अन्य प्रवासी समुदायों की तुलना में भारतीय समुदाय आगे है। पत्रिका ने दो अरब डॉलर से अधिक राजस्व वाली कंपनियों के भारतीय मूल के आठ मुख्य कार्यकारी अधिकारियों (सीईओ) की सूची में पेप्सिको की मुख्य सीईओ इंद्रा नूयी को शीर्ष स्थान दिया।

अमेरिका में प्रवासियों पर एक किताब के सहलेखक रिचर्ड हरमन के सोमवार को प्रकाशित लेख के हवाले से फोर्ब्स ने कहा कि कारपोरेट जगत में भारतीयों का उदय कोई आश्चर्य नहीं है। आज के सभी प्रवासी समुदायों की तुलना में भारतीय सुमदाय सबसे आगे है। इसका कारण अंग्रेजी भाषा की उनकी जानकारी और उच्च शिक्षा है।

पत्रिका के अनुसार भारतीयों की कुछ व्यक्तिगत सफलताओं के बावजूद शीर्ष कारपोरेट समूहों में प्रवासियों की संख्या काफी कम है। परंतु हरमन के अनुसार 10 वर्ष पहले यह संख्या शून्य या एक ही थी।

फोर्ब्स की सूची में पिम्को के प्रबंध निदेशक बनने वाले नील काशकरी, इंद्रा नूयी, सिटी ग्रुप के सीईओ विक्रम पंडित भी शामिल हैं।

आईटी कंपनी काग्निजेंट टेक्नोलॉजी के प्रमुख केन्या में जन्में भारतीय मूल के फ्रांसिस्को डीसूजा भी फोर्ब्स की सूची में है। इसके अलावा एडोब सिस्टम्स के शांतनु नारायण,क्वेस्ट डायग्नोस्टिक्स के प्रमुख सूर्या महापात्रा, हरमन इंटरनेशनल के दिनेश पालीवाल, सिग्मा-एल्डरिच के जाई पी.नागरकट्टी और एलएसआई के अभिजीत तालवलकर फोर्ब्स की सूची में शामिल है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अमेरिका में अन्य प्रवासियों से भारतीय आगे: फोर्ब्स