class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सेवायोजन अधिकारी रिश्वत लेते गिरफ्तार

विजिलेंस ने सोमवार को क्षेत्रीय सेवायोजन अधिकारी को 10 हजार रुपये रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया। उन पर एक आईटी कंपनी के संचालक से कंप्यूटर रिपेयरिंग के भुगतान के एवज में 10 हजार घूस लेने का आरोप है।

विजिलेंस के निदेशक विजय राघव पंत ने सेक्टर प्रभारी को प्रशंसा पत्र व टीम को पांच हजार रुपये इनाम की घोषणा की है। चुक्खुवाला  के पूरण सिंह की एडवांस आईटी सोल्यूसंस नाम से संजय मार्केट (किशननगर) में दुकान है।

पिछले साल उसने सेवायोजन कार्यालय में कंप्यूटरों की रिपेयरिंग की थी। उसे लगभग 60 हजार रुपये का भुगतान लेना था। लेकिन उसका पेमेंट लंबे समय से पास नहीं हो सका था।

इसी माह कोषागार से उसका बिल पास होकर सेवायोजन कार्यालय पहुंचा, तो वह भुगतान के लिए गया। वहां क्षेत्रीय सेवायोजन अधिकारी यशवंत सिंह रावत ने 15 हजार रुपये रिश्वत में मांगे। लेकिन बाद में बात 10 हजार में बन गई। इस बीच पूरण सिंह ने विजिलेंस सेक्टर के प्रभारी पुलिस अधीक्षक बृजेंद्र जुयाल से शिकायत की।

ट्रैप की अनुमति के बाद दोपहर पौने एक बजे विजिलेंस टीम ने आरोपी आरइओ रावत को उनके कार्यालय में दस हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। वह 90 बैच के पीसीएस (एलाइड) हैं। रावत उपनिदेशक पद की अतिरिक्त जिम्मेदारी भी देख रहे थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सेवायोजन अधिकारी रिश्वत लेते गिरफ्तार