DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेरठ-नोएडा की सीएनजी बसों में आग का खतरा

लो फ्लोर बसें लोगों की सुविधा के लिए शुरू की गई है। लेकिन दिल्ली में लो फ्लोर आग का गोला बनकर घुम रही है। काफी हादसे हुए है। मेरठ-नोएडा के बीच भी आठ सीएनजी (अंडरटेकिंग) से चलित चल रही है। लो फ्लोर बसें चला रहे कुछ ड्राइवरों ने परिवहन विभाग के उच्च अधिकारियों ने बस की स्पीड बढ़ाने में ज्यादा हिट निकलने और आग लगाने की शिकायत की है।

इसके बावजूद रोडवेज अधिकारियों ने मामले को दबाये हुए है और यह दबी जबान में स्वीकार कर रहे बसें सैफ नहीं है। शायद किसी हादसे के बाद भी अधिकारी चेतेंगे। उधर, जेएनएनयूआरएम की डीजल वजर्न की लो फ्लोर बसें ड्राइवरों ने किसी तरह की शिकायत नहीं है।

दिल्ली में सीएनजी की लो फ्लोर बसों में 30 मार्च से 12 दिसम्बर तक दजर्नों हादसे हो गये है। यह घटनाएं तब भी हो रही है। जब इन्हें बनने वाली कंपनियों ने बसों को हरी झंडी दे दी है। बसों में किसी तरह की खामियां नहीं है।

दिल्ली में टाटा और अशोक लीलैंड की बसों दौड़ रही है। आग लगने के हादसे तब हो रहे है, जब बसों में फायर सिस्टम लगाया हुआ है। शनिवार को ही अंडरटेकिंग बस चला रहे ड्राइवरों ने मेरठ-नोएडा के बीच दौड़ रही बसों में आग लगने का खतरे की आशंका जताई है। जब शनिवार को बस को इंजन ज्यादा गर्म होने पर मोहननगर बस अड्डे पर खड़ा करना पड़ा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मेरठ-नोएडा की सीएनजी बसों में आग का खतरा