class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

-पावर कारपोरेशन के पैतरे से उद्यमी परेशान

उद्यमियों के मीटर की चाबी अब पावर अफसरों के पास होगी। बिजली चोरी रोकने के नाम पर पावर के इस पैतरे से उद्यमी परेशान हैं। उन्होंने चेयरमैन से अपनी आपत्ति जता दी है। उद्योगपतियों का कहना है कि चाबी रखने पर पावर को ही मीटर रूम की पूरी जिम्मेदारी लेनी होगी।


यूपीपीसीएल बड़े उद्योग में मीटर रूम की चाबी अपने पास रखेगा। बड़े उद्योगों में अभी तक मीटर रूम के दो दरवाजे होते हैं। एक गेट बाहर की तरफ और दूसरा अंदर की तरफ रहता है। बाहर वाले गेट की चाबी पावर के पास और अंदर वाले गेट की चाबी उद्यमी के पास होती है। अब पावर अफसर अंदर वाले गेट को बंद रखना चाहते हैं। पावर के एसई कहते हैं कि मीटर रूम की एंट्री हमारे पास होगी। हम बिजली चोरी रोकने के लिए ऐसा कर रहे हैं। जल्द ही इसे पूरे शहर में लागू किया जाएगा। उधर उद्यमी इस फरमान से परेशान हैं। इस संबंध में नोएडा जनसुनवाई में सीएल धीर पहुंचे और उन्होंने अपनी आपत्ति जताई। धीर ने बताया कि मीटर रूम में कभी भी आग लग सकती है। ऐसे में गेट की चाबी पावर अफसरों के पास होने से हम कुछ नहीं कर सकती। अगर मीटर रूम में कुछ गड़बड़ी हो तो इसका जिम्मा पावर के पास होगी। उधर पावर केवल चाबी रखना चाहती है, लेकिन कोई जिम्मेदारी नहीं उठाएगी। धीर ने जनसुनवाई में उद्यमियों की समस्या रख दी है। जरूरत पड़ने पर इसे उच्च स्तर पर भी उठाया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पावर कारपोरेशन के पैतरे से उद्यमी परेशान