class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेले की तैयारियों ने पकड़ा जोर


नगर पालिका ने उत्तरायणी मेला 2010 की तैयारियां शुरू कर दी हैं। नुमाईशखेत मैदान में झूले, चख्रे और स्टाल लगने की तैयारी भी हो गई है। पालिकाध्यक्ष सुबोध लाल साह ने कहा कि 14 से 18 जनवरी तक लगने वाले मेले को भव्य रूप देने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।

पालिकाध्यक्ष ने मेला क्षेत्र का निरीक्षण किया। गोमती तथा सरयू बगड़ को बुल्डोजरों के जरिए समतल बनाया गया है। बगड़ में जहां राजनैतिक दलों के तंबू लगेंगे, वहीं बाबाओं के अखाड़े और धूनी भी यहां लगेंगी। इसके अलावा बाहर से आने वाले व्यापारी अपने उत्पाद बेचेने के लिए स्टाल लगाएंगे।

उत्तरायणी पर स्नान करने वालों को किसी भी प्रकार की दिक्कत न हो इसका पूरा ध्यान रखा जा रहा है। नुमाईशखेत मैदान में विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों की दिन रात धूम रहेगी।

मकर संक्रांति से लगने वाले उत्तरायणी मेले को भव्यता प्रदान की जाएगी। उन्होंने कहा कि वे प्रयास कर रहे है कि मुख्यमंत्री डा. निशंक से मेले का उद्घाटन करवाया जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मेले की तैयारियों ने पकड़ा जोर