अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राहुल के दौरे से पहले बुंदेलखंड में धरा गया ‘मानव बम’

कांग्रेस महासचिव राहुल गाँधी के सोमवार को बुंदेलखंड दौरे से चंद घंटे पहले महोबा जनपद की पनवाड़ी पुलिस ने संदिग्ध ‘मानव बम’ को दबोच लिया।

बाइक सवार यह संदिग्ध रविवार देर रात अपनी कमर पर विस्फोटक बांध राजमार्ग से झांसी की ओर जा रहा था। काफी मशक्कत के बाद पुलिस उसके शरीर से विस्फोटक अलग कर सकी। पूछताछ में संदिग्ध ने पुलिस को जो भी जानकारी दी, वे झूठी निकलीं। संदिग्ध को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हैं। कोई उसे आतंकी बता रहा है तो कोई ‘मानव बम’।

उसके पकड़े जाने की सूचना पर पुलिस के आला अफसरों के साथ खुफिया भी सतर्क हो गई। पुलिस की एक टीम झांसी रवाना की गई है। जिले की कप्तान ने कहा कि संदिग्ध की विस्फोटक अधिनियम के तहत गिरफ्तारी की गई है। पनवाड़ी से झांसी की दूरी महज 70 किलोमीटर है और अगले कुछ घंटे बाद ही राहुल गांधी झांसी पहुंचने वाले थे।

पनवाड़ी थानेदार श्री प्रकाश रविवार देर रात फोर्स के साथ गश्त पर थे। झांसी-मिर्जापुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर गश्त के दौरान बेंदो मोड़ पर शाल ओढ़े बाइक सवार को पुलिस ने रुकने का इशारा किया तो वह भागने लगा। इस पर थानेदार ने हमराही सिपाहियों के साथ उसका पीछा कर दबोच लिया।

उसकी कमर पर विस्फोटक बंधा देख पुलिसकर्मी सन्न रह गए। थानेदार उसे पनवाड़ी थाने लाए। यहां किसी तरह उसके शरीर में बंधी डॉयनामाइट की पांच छड़ें किसी तरह अलग की गईं। संदिग्ध की गिरफ्तारी से आला अफसर भी सकते में आ गए। एसओ श्रीप्रकाश ने जब उससे पूछताछ की तो संदिग्ध ने अपना नाम प्यारेलाल निवासी बेंदो गांव बताया।

उसने यह भी बताया कि वह बेंदो में रहने वाले कृपाशंकर धोबी से डॉयनामाइट की छड़ें खरीदी हैं। पुलिस टीम जब गांव गई तो कृपाशंकर के यहां कुछ भी नहीं मिला। बल्कि छानबीन में पुलिस को यह पता चला कि प्यारेलाल नाम का कोई व्यक्ति यहां रहता ही नहीं है।

पुलिस ने जब सख्ती की तो संदिग्ध ने अपना पता झांसी के ककेरा थाना का पड़रा गांव बताया। विस्फोटक उसने किससे खरीदा? किसलिए खरीदा? विस्फोटक को लेकर झांसी जाने की मंशा क्या थी? इस बाबत पुलिस उससे कुछ भी उगलवा नहीं सकी। संदिग्ध को जेल भेज दिया गया है।

संदिग्ध ‘मानव बम’ के खिलाफ 4/5 विस्फोटक अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है। उसके बताए गए पते पर पूरी जानकारी के लिए पुलिस की एक टीम झांसी भेजी गई है। इस बात का भी पता लगाया जा रहा है कि कहीं उसके साथ और भी संदिग्ध तो नहीं थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बुंदेलखंड में धरा गया ‘मानव बम’