class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जीप ने बालिका को रौंदा, मौत पर भड़का बवाल

कासिमाबाद-कठवामोड़ मार्ग स्थित चकफरीद गांव के पास सोमवार को कक्षा दो की एक छात्र की जीप से कुचलकर मौत होने से आक्रोशित ग्रामीणों ने शव को सड़क पर रखकर चक्काजाम कर दिया। ग्रामीण मृतका के परिजनों को मुआवजा देने और हादसा करने वाली जीप के चालक को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे।

उपजिलाधिकारी और सीओ ने लोगों को समझा-बुझाकर जाम समाप्त कराया। नोनहरा थाना क्षेत्र के चकसलेम गांव के प्रद्युम्न चौहान की बेटी रूनी चौहान (8)  प्राथमिक विद्यालय चकफरीद में कक्षा दो में पढ़ती थी। वह स्कूल के सामने ही जीप की चपेट में आने से गंभीर रूप से घायल हो गयी।

वहां मौजूद लोग उसे जिला अस्पताल ले जा रहे थे कि उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। बालिका की मौत होने से आक्रोशित ग्रामीणों ने उसका शव सड़क पर रखकर कासिमाबाद-कठवामोड़ मार्ग जाम कर दिया जिससे लगभग एक घंटे तक आवागमन बाधित रहा।

जाम हटवाने पहुंची नोनहरा पुलिस को भी ग्रामीणों के गुस्से का शिकार होना पड़ा। भीड़ सरकार और जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करती रही। तनाव बढ़ता देख पुलिस ने प्रशासनिक अधिकारियों को सूचना दी तो एसडीएम सदर महेन्द्र कुमार सिंह व सीओ कासिमाबाद प्रेमशंकर द्विवेदी मौके पर पहुंचे।

एसडीएम ने मृतका के परिजनों को आर्थिक सहायता दिये जाने का आश्वासन देकर जाम समाप्त कराया। इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जीप ने बालिका को रौंदा, मौत पर भड़का बवाल