अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विदेशी पक्षी दे रहे हैं प्रेम का संदेश

विदेशी पक्षी दे रहे हैं प्रेम का संदेश

उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले में नक्सली घटनाओं के केन्द्र कैमूर और विंध्यघाटी आजकल रंग-बिरंगे प्रवासी पक्षियों की प्रेम-क्रीडा एवं चहचहाहट से प्रकृति प्रेमियों के आकर्षण का केन्द्र बने हैं।

इन मेहमान पक्षियों की मनमोहक चहचहाहट से लगता है कि वे नक्सलियों को हिंसा छोड़ने की अपील कर रही हैं और उन्हें प्रेम का संदेश दे रही है।

शीतकालीन प्रवास के लिए सुदूर देशों से आए मेहमान पक्षियों के बेखौफ संगीतमय ध्वनि से इन दिनों पूरी घाटी गुंजायमान है। मिर्जापुर और सोनभद्र जिलों में नदियों एवं झीलों के तट पर इन पक्षियों के जोडा़ बनाने और प्रेम क्रीडाओं के अद्भुत दृश्य देखते ही बनते है।

जिला वन अधिकारी ए.के.सिंह के अनुसार ए पक्षी साइबेरिया, रूस, मंगोलिया, तिब्बत आदि स्थलों से पन्द्रह से बीस दिन का सफर तय कर यहां पहुंचते हैं और तीन माह तक यहां प्रवास के बाद वापस लौट जाते हैं।

उन्होंने बताया कि प्रवासी पक्षी अपना अधिकांश सफर दिन में पूरा करने के साथ रात में किसी झील या सरोवर के किनारे विश्राम करते हैं। पूरी यात्रा के दौरान उनका मुखिया आगे रहता है। शेष पक्षी उसका अनुसरण करते हैं। अब तक एक सौ से अधिक प्रजातियों के पक्षी यहां आ चुके हैं।

सिंह ने बताया कि प्रवासी पक्षियों की तादाद रोज बढ़ रही है। पक्षी नीले आकाश के तले झीलों, सरोवरों और नदियों के तट पर आकर्षक मुद्रा में अठखेलियां कर अपने जोडे़ तलाश करते हैं। जोडा बना लेने के बाद पूरे मौसम उसी के साथ रहते हैं।

सिंह के अनुसार इन पक्षियों की अलग-अलग प्रजातियों में प्रजनन काल भी अलग-अलग समय पर होता है। कुछ नर पक्षी मादा को आकर्षित करने के लिए विशेष प्रकार से आवाज करके अपने प्रेयसी को रिझाते हैं, जबकि कुछ प्रजातियों के पक्षी में मादा नर को आकर्षित करने के लिए विशेष प्रकार की उडा़ने या करतब दिखाती हैं।

पक्षी विशेषज्ञ मानते हैं कि कुछ पक्षियों में बोलने की क्षमता नहीं होती, ऐसे नर पक्षी मादा को रिझाने के लिए अपनी चोंच को अनेक मुद्राओं में लडा़ते एवं बजाते हैं और कभी कभी मादा एवं नर पक्षी अलग अलग दल बनाकर एक दूसरे को आकर्षित करते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विदेशी पक्षी दे रहे हैं प्रेम का संदेश