class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तनाव दूर करना है तो हरी चाय की चुस्की लें

आज की दौड़ती-भागती जिंदगी में तनाव होना आम बात है लेकिन इसे दूर करना भी आसान है। शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि दिन भर में हरी चाय यानी ग्रीन टी की कुछ चुस्कियों से तनाव को दूर किया जा सकता है।

मनोवैज्ञानिक समस्याएं कम करने के लिए हरी चाय की उपयोगिता कई अध्ययनों में साबित हो चुकी है और अब तोहोकू विश्वविद्यालय के डा. कैजन निउ और उनके सहयोगियों ने एक शोध में पाया है कि दिन भर में चार या इससे अधिक कप हरी चाय की चुस्कियां ले रहे 70 वर्ष या इससे अधिक की आयु वाले पुरुषों और महिलाओं में तनाव के लक्षण अन्य लोगों के मुकाबले 44 फीसदी कम दिखे।

गौरतलब है कि चीन और जापान सहित कई एशियाई देशों में हरी चाय का बडे पैमाने पर इस्तेमाल किया जाता है। एक अमेरिकी जर्नल में हाल में प्रकाशित इस रिपोर्ट के मुताबिक डा. निउ और उनकी टीम ने अपेक्षाकृत स्वस्थ और उम्र दराज 1058 पुरुषों एवं महिलाओं पर यह परीक्षण किया। इनमें पुरुषों की संख्या के करीब 34 फीसदी तथा महिलाओं की संख्या के करीब 39 लोगों में तनाव के लक्षण मौजूद थे।

इनमें से कुल 488 लोगों ने कहा कि उन्होंने दिनभर में चार या इससे अधिक कप 284 लोगों ने दिनभर में दो या तीन कप जबकि बाकी लोगों ने दिनभर में एक या इससे भी कम हरी चाय का सेवन किया।

शोधकर्ताओं के मुताबिक हरी चाय के सेवन का असर तनाव घटाने में साफ-साफ दिखा और लोगों की सामाजिक एवं आर्थिक स्थिति लिंग आहार पुरानी स्वास्थ्य समस्याएं और तनाव दूर करने वाली दवाओं के इस्तेमाल के बावजूद इसके प्रभाव पर कोई फर्क नहीं पडा़। अध्ययन के मुताबिक काली या ऊलोंग चाय अथवा कॉफी के सेवन का तनाव के लक्षणों से कोई वास्ता नहीं है।

हरी चाय में अमीनो एसिड नामक तत्व पाया जाता है जो दिमाग पर गहरा असर डालता है। इसका तनाव दूर करने में अहम योगदान होता है। हालांकि अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि अभी इस बात की पुष्टि करने के लिए और भी अध्ययन करने की जरूरत है कि अधिक मात्रा में हरी चाय की चुस्की लेने से तनाव दूर होता है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तनाव दूर करना है तो हरी चाय की चुस्की लें