class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

क्या रहा फैशन में खास


क्या रहा फैशन में खास

साल 2009 फैशन परस्त लोगों के लिए बहुत खास रहा। इस साल जहां साड़ी दोबारा फैशन की दौड़ में शामिल हो गई, वहीं इंडो-वेस्टर्न का कॉम्बिनेशन भी ट्रेंड में रहा। लड़के और लड़कियों में कौन-कौन सी पोशाकें, डिजाइन और रंग फैशन में रहे, आइए आपको बताते हैं।

लड़कियों के लिए फैशन
ड्रेसेज : फैशन डिजाइनर रितु कुमार कहती हैं कि 2009 में फैशन का नया रूप देखने को मिला। इस साल कुर्ती और ट्यूनिक्स का सबसे ज्यादा क्रेज रहा। वन पीस ड्रेस के साथ लैगिंग्स को भी महिलाओं ने खूब ट्राई किया। साथ ही इंडो-वेस्टर्न ड्रेसेज के प्रति भी काफी क्रेज दिखा। गल्र्स में पूरे साल स्टाइलिश और डिजाइनर टॉप की डिमांड खूब रही, साथ ही कैट पैंट्स की धूम रही। एथनिक और वेस्टर्न ड्रेसेज का कॉम्बिनेशन भी देखने को मिला। युवतियों में इस साल साड़ी का फैशन फिर से लौट आया। बैकलेस पोशाकें भी चलन में रहीं। दुल्हनों को ग्लैमरस दिखने का ढंग बताया शिल्पा शेट्टी ने।

वर्क : इस साल पोशाकों में जरदोजी, बंधेज और अंबी वर्क सबसे ज्यादा डिमांड में रहा। फिर वो चाहे साड़ी पर, सूट पर या फिर टॉप पर ही क्यों न किया गया हो। हर तरह के परिधान पर इन वर्क की खूब धूम रही। इस साल ड्रेसेज पर मोटे-मोटे बटन का भी काफी क्रेज रहा।

एक्सेसरीज : अगर एक्सेसरीज की बात करें तो लड़कियों में इस साल टोरिंग पहनने का ट्रेंड रहा। पहले टोरिंग सिर्फ मैरिड लेडीज ही पहना करती थीं, लेकिन 2009 में टोरिंग फैशन का एक हिस्सा बन गई, जिसे हर उम्र की लड़कियों ने ट्राई किया। वहीं इस साल हैंड क्लच पर्स का फैशन भी लौट कर आया। बॉलीवुड की एक्ट्रेस से लेकर आम महिला तक के हाथों में इन दिनों ये पर्स देखे जा सकते हैं। लॉन्ग बैग्स का क्रेज भी लड़कियों के सिर चढ़कर बोला। इसके अलावा इस साल वुडन कड़ों ने भी गल्र्स के हाथों की शोभा बढ़ाई।

लड़कों के लिए फैशन
ड्रेसेज : फैशन डिजाइनर जतिन कोचर के अनुसार, ‘बॉयज में इस साल नैरो बॉटम और स्ट्रेट फिट
जींस सबसे ज्यादा डिमांड में रही।’ इस जींस में पतले लड़कों की टांगें और भी पतली लगती हैं, लेकिन टेंशन लिए बगैर लड़कों ने इसे पूरे साल पहना। जनित के अनुसार, ‘जोधपुरी स्टाइल की पैंट भी काफी डिमांड में रही। वहीं टी-शर्ट की यदि बात की जाए तो डीप नेक वाले कुर्ते और टी-शर्ट बॉयज को खूब भाए, जिस पर कुछ-न-कुछ मैसेज लिखा हो या कोई लोगो बना हो। इसमें और चार-चांद लगा दिए अरेबिक स्टाइल के स्कार्फ ने, जिसे शाहरुख खान ने पहनकर रातोंरात इसकी डिमांड बड़ा दी।’ टॉर्न जींस, यानी कहीं-कहीं से फटी जींस को भी फैशनेबल माना गया।
एक्सेसरीज : लड़कों में मास्टरजी वाला चश्मा खूब पसंद किया गया। जब तमाम फिल्म स्टार ने इसको अपनाया तो भला आम युवा पीछे कैसे रहते। 

रंग : जतिन कहते हैं कि इस साल बॉयज ने गल्र्स के कलर्स सबसे ज्यादा ट्राई किए। उदाहरण
के लिए हम रेड कलर को ले सकते हैं। इस साल से पहले रेड कलर को लड़कों ने कभी ट्राई नहीं किया। लेकिन इस साल यह रंग लड़कों में काफी लोकप्रिय रहा।

फैब्रिक : इस साल गल्र्स और बॉयज में हॉजरी फैब्रिक सबसे अधिक पसंद किया गया। इसे पसंद करने का सबसे खास कारण इसका आरामदायक होना है। इसे हर उम्र के लोग आसानी से धारण कर सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: क्या रहा फैशन में खास