class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोने से रूप लगे सोणा

सोने से रूप लगे सोणा

इस वर्ष कई देसी-विदेशी कंपनियां अपने ब्यूटी प्रोडक्ट्स में सोने के इस्तेमाल को तरजीह देती रहीं। चाहे फेस पैक हो या सनस्क्रीन, मॉइश्चराइजर हो या फाउंडेशन, सभी में गोल्ड का इस्तेमाल होने लगा है। सौंदर्य प्रसाधन की रेंज में भारी मात्र में गोल्ड बेस्ड प्रोडक्ट्स भारतीय बाजार में उतारने वाली कंपनी नेचर्स एसेंस के डायरेक्टर सौरव नंदा कहते हैं कि सोना हमेशा से स्त्रियों का प्रिय रहा है। त्वचा में आसानी से घुलने व इसके अन्य गुणों के कारण इसका इस्तेमाल सौंदर्य प्रसाधन में होने लगा है। किसी ब्यूटी प्रोडक्ट में सोने का तत्त्व गजब कमाल दिखाता है।
त्वचा टॉक्सिक तत्त्वों, हवा के रासायनिक प्रदूषण और सूर्य की तेज अल्ट्रावॉयलेट किरणों से काफी प्रभावित होती है। ऐसे में शुद्ध सोना युक्त गोल्ड बेस्ड एंटी एजिंग रेडियेंस क्रीम व जेल त्वचा की बढ़ती उम्र को थाम कर इसे तना हुआ, लचीला, जवां और कांतिमय बनाते हैं।

सोने के अंश वाले मॉइश्चराइजर का प्रभाव शरीर में  रक्त प्रवाह पर भी पड़ता है, जिससे त्वचा निर्मल होती है। सोने के अंश वाला मॉइश्चराइजर त्वचा को डिटॉक्सीफाई करने में मदद करता है और प्रदूषण वाले कणों के प्रभाव को कम करता है। सोना में एंटी बैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट तत्त्व दोनों होते हैं। सोने का अंश ऑक्सीजन को त्वचा में शामिल होने में भी मदद करता है, जिससे कोशिकाओं को ठीक प्रकार काम करने के लिए ऊर्जा मिलती है।
24 कैरेट गोल्ड फेशियल मास्क  त्वचा को जवां बनाती है। इससे त्वचा चमकदार और कांतिमय भी बनती है, जो थोड़ी देर के लिए नहीं, बल्कि लंबे समय तक बनी रहती है। शुद्ध सोने के चमकदार गुणों से लबरेज गोल्ड फाउंडेशन शाम के मौकों के लिए उपयुक्त है। त्वचा को झटपट साइन देने के लिए महिलाओं ने इसे इस साल खूब पसंद किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सोने से रूप लगे सोणा