class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साल चला कैटवॉक की चाल

साल चला कैटवॉक की चाल

अब फैशन आयोजन सिर्फ दिल्ली और मुंबई तक ही सीमित नहीं रहा, बल्कि अन्य शहरों में भी इनका आयोजन सफलतापूर्वक होने लगा है, जिनमें कोलकाता, चेन्नई और बेंगलुरु प्रमुख हैं। आइए देखते हैं प्रमुख शहरों में क्या हुआ।

दिल्ली
दिल्ली में इस साल सबसे पहला बड़ा फैशन आयोजन मार्च में विल्स लाइफस्टाइल इंडिया फैशन वीक के रूप में हुआ। होटल इंटरकॉन्टिनेंटल में 18 से 23 मार्च तक हुए इस आयोजन में 102 डिजाइनरों में शिरकत की। इसी के साथ दिल्ली फैशन वीक (19-24 मार्च) का भी आयोजन हुआ। अक्टूबर महीने में फिर से फैशन मेला शुरू हुआ प्रगति मैदान में। विल्स लाइफस्टाइल के बैनर तले स्प्रिंग-समर-2010 के लिए एक ही फैशन शो का आयोजन हुआ, यानी डब्ल्यूआईएफडब्ल्यू और डीएफडब्ल्यू मिलकर एक हो गए। इस आयोजन में डिजाइनर संजना जोन की काफी चर्चा रही। होटल हयात में ब्राइडल एशिया (18-17 सितंबर) भी आयोजित हुआ।  

मुंबई
बॉलीवुड सितारों की नगरी मुंबई के ग्रैंड हयात में 27 से 31 मार्च तक लक्मे फैशन वीक (एलएफडब्ल्यू) का आयोजन हुआ फॉल विंटर कलेक्शन के लिए और फिर 18 से 24 सितंबर तक समर कलेक्शन के लिए। इसमें एक ओर जहां नए मॉडलों को भरपूर मौका दिया गया, वहीं फिल्मी कलाकारों का जमावड़ा अन्य फैशन वीक के मुकाबले अधिक दिखाई दिया। एचडीआईएल कोतूर वीक भी काफी सफल रहा, जिसमें मॉडलों से ज्यादा फिल्मी सितारे नजर आए! 
   
कोलकाता
भारतीय क्रिकेट कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी को ब्रांड एम्बेसेडर बनाने के साथ ही अचानक कोलकाता भी फैशन जगत में इस साल अपनी पहचान बनाने में कामयाब रहा। इस साल पहले 2 से 5 अप्रैल को और फिर 9 से 13 सितंबर तक कोलकाता फैशन वीक (केएफडब्ल्यू) का आयोजन किया गया। क्रिकेटरों और बांग्ला फिल्म स्टार्स यहां रैंप पर खूब दिखे।

चेन्नई
14 से 20 दिसंबर को चेन्नई के होटल ली रॉयल मेरीडियन में चेन्नई इंटरनेशनल फैशन वीक (सीआईएफडब्ल्यू) के आयोजन के साथ ही चेन्नई ने फैशन वर्ल्ड में अपनी धमाकेदार उपस्थिति दर्ज करा दी। यहां पहली बार भारतीय और विदेशी डिजाइनर एक साथ रैंप पर नजर आए। बॉलीवुड कलाकारों के अलावा दक्षिण भारतीय और श्रीलंकाई कलाकार भी रैंप पर नजर आए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:साल चला कैटवॉक की चाल