DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमेरिका की 'नरक जेल' से घर लौटे 12 कैदी

अमेरिका की 'नरक जेल' से घर लौटे 12 कैदी

अमेरिका ने क्यूबा द्वीप समूह स्थित कुख्यात सैन्य बंदी गृह ग्वांतनामो बे में बंद 12 कैदियों को उनके देशों अफगानिस्तान, यमन और सोमालिया को सौंप दिया है।

अमेरिका के न्याय विभाग ने बताया कि पिछले हफ्ते छह यमनी, चार अफगानी और दो सोमालियाई कैदियों को उनके देश भेज दिया गया है। कैदियों का यह स्थानांतरण अमेरिका और संबंधित विदेशी प्रशासन के साथ मिलकर किया गया है, जिससे सुरक्षा के उचित इंतजाम किए जा सकें।

कैदियों का स्थानांतरण ऐसे समय पर किया गया है जब राष्ट्रपति बराक ओबामा अगले वर्ष 22 जनवरी तक इस कुख्यात जेल को बंद करने की मंशा जता चुके हैं। हालांकि विशेषज्ञों का मानना है कि राजनीतिक और कूटनीतिक चुनौतियों को देखते हुए ओबामा शायद ही अपनी तय समय-सीमा पर इसे बंद कर सकें। एक समय में कैदियों के साथ अमानवीय व्यवहार के लिए चर्चा में आई ग्वांतनामो बे जेल में अभी भी 198 कैदी बंद हैं।

इस बीच ओबामा द्वारा कैदियों को उनके देश भेजे जाने के फैसले की कड़ी आलोचना भी की जा रही है। विपक्षी रिपब्लिकन पार्टी के वरिष्ठ सांसद फ्रैंक वुल्फ ने कहा कि ऐसे समय में जब यमन जैसे देश में जहां अलकायदा आतंकवादी सक्रिय हैं, तब इन कैदियों को वहां भेजना ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि ओबामा प्रशासन और न्याय विभाग द्वारा कैदियों को स्थानांतरित करने का फैसला पूरी तरह से गलत है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अमेरिका की 'नरक जेल' से घर लौटे 12 कैदी