class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भ्रष्टाचार के आरोप राजनीति से प्रेरित: मलिक

भ्रष्टाचार के आरोप राजनीति से प्रेरित: मलिक

पाकिस्तान के गृहमंत्री रहमान मलिक ने उन पर लग रहे भ्रष्टाचार के गंभीर आरोपों को राजनीतिक विरोधियों की चाल बताते हुए उसे खारिज कर दिया है।

मलिक ने अमेरिकी टीवी चैनल सीएनएन को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है, इसलिए उन्हें अदालत में उनकी पेशी को लेकर कोई भय नहीं है। उन्होंने कहा कि मेरे ऊपर लगाए गए आरोप झूठे हैं, इसलिए मुझे कोई चिंता नहीं है। हम समझते हैं कि गलत नहीं होने के बावजूद हमें कानूनी प्रक्रिया का पालन करते हुए भ्रष्टाचार के आरोपों से बरी होना चाहिए।

गौरतलब है कि पाकिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ ने राष्ट्रीय क्षमा दान अध्यादेश (एनआरओ) के तहत हजारों प्रशासिनक अधिकारियों और नेताओं पर चल रहे भ्रष्टाचार के मामलों में आम माफी दे दी थी। इस अध्यादेश से लाभान्वित होने वाले लोगों में मलिक भी शामिल थे। अभी हाल ही में पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने एनआरओ को रद्द कर दिया, जिसके बाद भ्रष्टाचार के मामलों की सुनवाई फिर से शुरू हो गई है।
 
भ्रष्टाचार के एक मामले में कराची की एक अदालत ने मलिक को आठ जनवरी, 2010 को अदालत में उपस्थित होकर अपना पक्ष रखने का आदेश दिया है। मलिक ने कहा कि कोई भी मामला या विरोधियों द्वारा की जा रही आलोचनाएं उनको अपना काम करने से नहीं रोक सकती। मैं अपने काम में अब और आक्रामक हो गया हूं। मैंने अपने देश से वादा किया था कि हम यहां से तालिबानी आतंकवादियों का सफाया करेंगे।

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तानी सेना अफगानिस्तान की सीमा से लगे देश के कबायली इलाकों में तालिबान और अलकायदा आतंकवादियों के खिलाफ सैन्य अभियान चला रही है।

वहीं मलिक ने एनआरओ का बचाव करते हुए कहा कि यह साधरणतया सभी राजनीतिक नेताओं के बीच समझौता था। इस अध्यादेश के बाद ही सभी नेता आम चुनाव में भाग ले सके। आरोप हमेशा बने रहेंगे, न्यायपालिका और राजनीतिक नेतृत्व पर भी आरोप लगते रहे हैं। अगर सुप्रीम कोर्ट हमसे चाहता है कि दूसरी बार हम अदालत में जाकर अपने आपकों निर्दोष साबित करें, तो हम करेंगे लेकिन आरोप साबित होने तक किसी को भी दोषी नहीं माना जा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भ्रष्टाचार के आरोप राजनीति से प्रेरित: मलिक