class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आस्ट्रेलिया ने जीती फ्रेंक वारेल ट्राफी

आस्ट्रेलिया के खिलाफ वेस्टइंडीज का संघर्ष यहां खेले जा रहे सीरीज के तीसरे एवं आखिरी टेस्ट मैच के अंतिम दिन ज्यादा देर तक नहीं चल सका। मेजबान ने 35 रनों की जीत के साथ ही 2-0 के अंतर से फ्रेंकवारेल ट्राफी पर कब्जा जमा लिया।

चौथे दिन अपने जुझारू प्रदर्शन से एक समय ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग के चेहरे पर पसीना ला देने वाले वेस्टइंडीज के बाकी बल्लेबाज ज्यादा देर संघर्ष नहीं कर सके और मात्र 21 गेंदों का सामना करने के बाद आउट हो गए।

वेस्टइंडीज के कप्तान क्रिस गेल को पहली पारी में टेस्ट इतिहास में पांचवां सबसे तेज शतक बनाने के कारण मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया। साथ ही उन्हें सीरीज का भी सबसे बेहतरीन खिलाड़ी आंका गया। उन्होंने एडिलेड टेस्ट की दूसरी पारी में भी नॉटआउट 165 रन बनाए थे जिसकी वजह से आस्ट्रेलिया एक समय हार के कगार पर पहुंच गया था। वेस्टइंडीज ने मैच के अंतिम दिन नौ विकेट पर 308 रन से आगे खेलना शुरू किया। केमार रोच अपने 13 के स्कोर में चार रनों का इजाफा करने के बाद डग बोलिंगर का शिकार बने। वेस्टइंडीज की पारी 323 रनों पर सिमट गई। बोलिंगर ने रोच को विकेट के पीछे ब्रैड हैडिन के हाथों कैच कराया।
 
हालांकि इस निर्णय के लिए अंपायर निर्णय पुनर्विचार प्रणाली की मदद ली गई। रोच ने अंपायर द्वारा आउट दिए जाने के बाद यूडीआरएस की मदद ली जिसके बाद रोच को आउट करार दिया गया। रोच और जी टोंग जिस समय बल्लेबाजी के लिए मैदान पर आए थे उस समय टीम का स्कोर नौ विकेट पर 279 रन था, लेकिन इन दोनों ने अपने प्रयासों से मेजबानों को चौथे दिन ही जीत से महरूम रखा। इन दोनों ने अंतिम विकेट के लिए 44 रन जोड़े। टोंग 22 गेंदों पर 23 रन बनाकर नाटआउट रहे। आस्ट्रेलिया की जीत के बाद मैदान में मौजूद हजारों दर्शक दो मिनट तक खड़े होकर टीम के समर्थन में तालियां बजाते रहे। बोलिंगर ने पूरे मैच में कुल आठ विकेट लिए। उन्होंने पहली पारी में पांच विकेट लेकर कैरेबियाईयों को समेटने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आस्ट्रेलिया ने जीती फ्रेंक वारेल ट्राफी