class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छोड़ना है धूम्रपान तो घर बदलें

छोड़ना है धूम्रपान तो घर बदलें

सिगरेट या तंबाकू की लत छोड़ने के लिए घर बदलना फायदेमंद साबित हो सकता है। यदि ऐसे लोग घर के साथ-साथ अपनी नौकरी भी बदल लें तो नया परिवेश लत छुड़ाने में और भी ज्यादा कारगर साबित होगा। देश में तंबाकू छुड़ाने के लिए खुले क्लीनिकों में शोध के दौरान ये तथ्य सामने आए हैं।

शोध नतीजे बताते हैं कि जिन लोगों ने सिगरेट या तंबाकू की लत छोड़ने के दौरान घर और आफिस बदले, वे सबसे ज्यादा सफल रहे। विश्व में धूम्रपान छुड़ाने के टीके विकसित हो रहे हैं। तंबाकू छुड़ाने वाली कई दवाएं भी हैं पर वे ज्यादा प्रभावी साबित नहीं हुई हैं। टाटा मेमोरियल कैंसर हास्पिटल के एसोसिएट प्रोफेसर पंकज चतुर्वेदी ने बताया, ‘हमने अपने शोध में पाया कि घर-आफिस का परिवेश बदलने के दौरान यदि लोग तंबाकू छोड़ने की कोशिश करते हैं तो वे सफल रहते हैं। वजह यह है कि धूम्रपान करना और तंबाकू चबाना एक मानसिक विकार भी है। एक निश्चित स्थान और निश्चित समय पर इसकी तलब उठती है लेकिन यह स्थान बदल जाए और थोड़ी दिनचर्या भी बदल जाए तो तंबाकू छोड़ना ज्यादा कठिन नहीं होता है।’

डा. चतुर्वेदी के कहते हैं, धीरे-धीरे धूम्रपान छोड़ने का फामरूला अब कारगर नहीं है। धूम्रपान कम करेंगे फिर छोड़ेंगे, का फामरूला अपनाने वाले कम छोड़ पाते हैं जबकि एक झटके में छोड़ने वाले ज्यादा सफल होते हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:छोड़ना है धूम्रपान तो घर बदलें