class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वोल्वो-कार भिड़ंत में चालक की मौत

नवाबगंज के लालगोपालगंज में रविवार को वाल्वो बस और कार की भिड़ंत में कार चालक की मौत हो गई। हादसे में कार सवार आरए भट्ट इंजीनियरिंग कालेज के निदेशक बुरी तरह जख्मी हो गए हैं। वह कार से एक मुकदमे के सिलसिले में हाईकोर्ट इलाहाबाद आ रहे थे।

घटना के बाद जुटी भीड़ ने कार का काँच तोड़कर दोनों को बाहर निकाला। सूचना के बाद भी पुलिस एक घंटे तक नहीं पहुँची तो लोग आक्रोशित हो गए और चक्काजाम कर दिया। बाद में पहुँची पुलिस ने जाम हटवाया। बाद में दोनों को एसआरएन अस्पताल भेजा गया। वहाँ डाक्टरों ने चालक को मृत घोषित कर दिया।

आरए भट्ट इंजीनियरिंग कालेज-बागपत के निदेशक आलोक चौहान गाजियाबाद के वैशाली में रहते हैं। उनके एक मामले की सोमवार को हाईकोर्ट में सुनवाई होनी है। श्री चौहान (42) शनिवार को फ्लाइट से लखनऊ आए थे। वे वहाँ से रिजर्व कार से रविवार को इलाहाबाद के लिए रवाना हुए।

कार तिवारीपुर प्रतापगढ़ का मो. मोबीन (45) चला रहा था। रास्ते में नवाबगंज के लालगोपालगंज पहुँचने पर चालक ने एक ट्रक को ओवरटेक किया। इस दौरान कार अनियंत्रित होकर सामने से आ रही वाल्वो बस से जा भिड़ी। भिड़ंत में कार के अगले हिस्से के परखच्चे उड़ गए।

घटना के बाद वहाँ आसपास के लोग जुट गए। बस चालक और कंडक्टर मौका पाकर निकल भागे। एक घंटे तक पुलिस नहीं पहुँची तो आक्रोशित लोगों ने जाम लगा दिया। दोनों तरफ वाहनों की लम्बी कतार लग गई। हंगामा होता देख वाल्वो बस में सवार लोग खिड़की से कूदकर निकल भागे।

पुलिस ने बाद में लोगों को समझाकर शांत कराया और जाम खत्म हुआ। पुलिस दोनों को एसआरएन अस्पताल ले गई। वहाँ डाक्टरों ने चालक मो. मोबिन को मृत घोषित कर दिया। आलोक चौहान की हालत भी नाजुक बनी हुई है। उनके पास से मिले कागज के जरिए उनकी पहचान हुई। पुलिस ने उनके घरवालों को सूचना दे दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वोल्वो-कार भिड़ंत में चालक की मौत