class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आग लगाकर विवाहिता ने जान दी

रोज-रोज के तानों से तंग आकर एक विवाहिता ने खुद को आग लगा ली। अधजली हालत में उसे अस्पताल ले जाया गया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। विवाहिता के परिजनों ने पति, सास पर आत्महत्या के लिए विवश करने अथवा हत्या करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है।

सोहना, गुड़गांव की अमिता ने तीन साल पहले अपनी बेटी खुशबू की शादी एसजीएम नगर के विवेक से की थी। अमिता का आरोप है कि शादी के कुछ दिन तक तो सब ठी रहा। डेढ़ साल के बाद खुशबू को एक बेटी पैदा हुई। बेटी के जन्म के बाद सास व पति का व्यवहार बदलने लगा। ससुराल वालों ने खुशबू पर मायके से रुपए लाने का दबाव बनाया। जिस पर उन्होंने बेटी के ससुराल वालों को एक लाख दे दिए। इसके बाद भी पति व सास दहेज के लिए बेटी को परेशान करते रहे। इसी बीच खुशबू ने दूसरी बेटी को जन्म दिया। आरोप है कि दूसरी बेटी के जन्म के बाद उसे बेटा न पैदा कर पाने के ताने देना शुरु कर दिया। उसे तंग करने का सिलसिला जारी रहा।

उन्होंने बताया कि 16 दिसंबर को उनकी बेटी के पति विवेक ने उन्हें फोन पर खुशबू के आग लगा लेने की सूचना दी और बताया कि उसे एस्कॉर्ट अस्पताल में दाखिल कराया गया है। उसकी हालत खराब होने के चलते डाक्टरों ने दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

अमिता का आरोप कि विवेक व उसकी मां बिमला ने खुशबू को आग लगाने के लिए मजबूर किया है अथवा उसकी हत्या की गई है। विवाहिता की मां की शिकायत मिलने पर पुलिस ने आरोपी पति व उसकी मां के खिलाफ मामला दर्ज करके जांच शुरु कर दी है।

नीरज

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आग लगाकर विवाहिता ने जान दी