class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तीरंदाजी के स्थल के निर्माण पर दो एजेंसियों में विवाद

तीरंदाजी के स्थल के निर्माण पर दो एजेंसियों में विवाद

राष्ट्रमंडल खेलों के लिये केवल नौ महीने का समय बचा है, लेकिन इंडिया गेट के मैदान में तीरंदाजी के अंतिम चरण की स्पर्धाओं के स्थल के निर्माण को लेकर दो एजेंसियों में द्वंद्व मचा हुआ है।

केंद्रीय लोक निर्माण विभाग (सीपीडब्ल्यूडी) इसके निर्माण के लिए ठेकेदारों का चयन करने की प्रक्रिया में है, जबकि आयोजन समिति ने इसी काम के लिए नए टेंडर जारी कर दिए हैं।

सीपीडब्ल्यूडी के एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि हमें यह जिम्मेदारी दी गई थी और हमने इसके अनुसार सितंबर में अपनी दिलचस्पी व्यक्त कर दी थी और अब वे इसके लिये टेंडर निकाल रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमने एक राष्ट्रीय अखबार में आयोजन समिति द्वारा जारी किए गए टेंडर को देखा। उन्होंने इस महीने इसी काम के लिए दावेदारों को आमंत्रित किया है, जिससे यह संशय की स्थिति उत्पन्न हुई है। हालांकि हमने इस मुद्दे पर आयोजन समिति से सफाई मांगी है, लेकिन हमें अभी तक जवाब नहीं मिला है।

हालांकि आयोजन समिति के एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि इसमें कोई भी संदेह नहीं होना चाहिए, क्योंकि यह टेंडर खेलों के स्थलों पर सतह बनाने के लिए जारी किया गया है। जब उनसे पूछा गया कि सीपीडब्ल्यूडी को इस मुद्दे पर आयोजन समिति के जवाब का इंतजार है तो इस अधिकारी ने कोई उत्तर नहीं दिया।

तीरंदाजी की शुरुआती स्पर्धाएं यमुना खेल परिसर में होंगी, जिसके मार्च तक तैयार होने की उम्मीद है जबकि फाइनल इंडिया गेट के लान में आयोजिन होगा। सीपीडब्ल्यूडी के अधिकारी ने कहा कि जब तक आयोजन समिति से इस पर जवाब नहीं मिलता, तब तक हम आगे नहीं बढ़ सकते। इससे देरी तो होगी ही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तीरंदाजी के स्थल के निर्माण पर दो एजेंसियों में विवाद