class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दहेज हत्यारोपी की जमानत अर्जी खारिज

दहेज के लालच में पत्नी की हत्या करने के आरोपी सुरेंद्र कुमार सरपाल की जमानत याचिका जिला एवं सत्र न्यायाधीश एसके गुप्ता ने खारिज कर दी।


शासकीय अधिवक्ता वीरेंद्र तिवारी ने बताया कि वादी दयालचंद बब्बर ने 14 अप्रैल 09 को थाना कनखल में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। दयालचंद की पुत्री कंचन की शादी दो वर्ष पूर्व आरोपी सुरेंद्र कुमार सरपाल पुत्र बाबूराम निवासी गोविंदपुरी कोतवाली ज्वालापुर के साथ हुई थी। वादी ने शादी में हैसियत से अधिक दहेज दिया था, लेकिन पुत्री के ससुरालीजन संतुष्ट नहीं थे और कारोबार के लिए दो लाख रुपए लाने की मांग कर रहे थे। घटना के चार दिन पूर्व आरोपी पति ने कंचन के साथ मारपीट कर घर से निकाल दिया था। जिस पर वादी की पुत्री मायके आ गई थी। रिश्तेदारों के समझाने पर वादी पुत्री को ससुराल छोड़ आया था। 17 अप्रैल 09 को वादी के बड़े दामाद ने सूचना दी कि आरोपी ससुरालियों ने कंचन की हत्या कर दी है और हरिद्वार के विश्वकर्मा घाट पर गए हैं। वादी पुलिस को साथ लेकर विश्वकर्मा घाट पर पहुंचा। पुलिस ने घाट से कंचन के शव के साथ आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया। दोनों पक्षों के वकीलों की बहस सुनने के बाद न्यायालय ने सुरेंद्र कुमार सरपाल का जमानत प्रार्थना पत्र निरस्त कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दहेज हत्यारोपी की जमानत अर्जी खारिज